अल्मोड़ा

मौसम अपडेट-: बन रहा है कम दबाव का क्षेत्र 3 घंटे का जारी किया मौसम पूर्वानुमान.सतर्कता बरतने की अपील.यहां हो सकती है भारी बरसात. ठंड के बीच पवित्र सरोवर भी जमा ।।

देहरादून-: मौसम विभाग ने तत्कालिक मौसम पूर्वानुमान जारी करते हुए उत्तराखंड राज्य के मैदानी क्षेत्रों में कोहरे को लेकर तत्कालीन मौसम

अपडेट जारी की है सुबह जारी मौसम पूर्वानुमान के अनुसार मौसम वैज्ञानिक विक्रम सिंह के अनुसार उत्तराखंड राज्य के मैदानी क्षेत्रों में विशेष रूप से हरिद्वार तथा उधम सिंह नगर जनपदों में कहीं उथला कोहरा छाए रहने की संभावना है 6:00 बजे से लेकर सुबह 9:00 बजे तक जारी पूर्वानुमान के अनुसार मौसम विभाग ने सतर्कता बरतने की अपील की है।


इसके अलावा मौसम विभाग ने 11 दिसंबर तक मौसम पूर्वानुमान जारी किया है मौसम विभाग के अनुसार अगले 11 दिसंबर तक उत्तराखंड राज्य के जनपदों में मौसम शुष्क रहेगा लेकिन राज्य के मैदानी क्षेत्र में सुबह के समय कोहरा छाए रहने की संभावना है मौसम विभाग ने राज्य के मैदानी क्षेत्रों में तापमान की स्थिति को लेकर अपने दिशा निर्देश जारी करते हुए 10 और 11 सितंबर को तापमान में परिवर्तन होने की संभावना व्यक्त करते हुए 18 डिग्री सेंटीग्रेड से अधिक तापमान रहने की संभावना जताई है मौसम विभाग का कहना है कि इस दौरान तापमान में हो रहे परिवर्तन के बाद सर्दी और फ्लू का संभावना प्रबल हो सकती है जिसके चलते लोगों को विशेष रूप से बच्चों और बुजुर्गों को सुबह रात के समय गर्म कपड़े पहनने की सलाह दी जाती है ताकि तापमान में दैनिक उतार-चढ़ाव से बचाव किया जा सके।
इस बीच पर्वतीय क्षेत्र में पड रही शीत लहर और ठंड के प्रकोप से वहां पर भी जनजीवन पर प्रतिकूल असर पड़ा है सिखो के पवित्र तीर्थ हेमकुंड साहिब में कडाके की ठंड हो रही है। हेमकुंड साहिब का पवित्र सरोवर इन दिनों पूरी तरह से जम चूका है। हेमकुंड साहिब में तापमान शून्य से माइनस दस तक पहुच रहा है। जिसके चलते हेमकुंड साहिब मे कडाके की ठंड हो रही है।
हेमकुंड साहिब के कपाट बंद होने के बाद गुरुद्वारा हेमकुंड साहिब गुरुद्वारा टस्ट के प्रवन्धक सेवा सिह ने बताया कि वे निरिक्षण के लिये हेमकुंड साहिब गये थे। यहां बहने वाले नाले पूरी तरह से जम चूके है। साथ ही हेमकुंड साहिब में स्थित पवित्र सरोवर पूरी तरह से जम चूका है। यहां पारा शून्य से माइनस दस तक पहुचने से कडाके की ठंड हो रही है।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर(रुद्रप्रयाग) टेंपों ट्रेवल्स हादसा,12 की मौत की पुष्टि,14 घायल, SDRF ने चलाया रेस्क्यू सर्च अभियान।।

उधर भारत मौसम विज्ञान केंद्र का कहना है कि बंगाल की खाड़ी के ऊपर कम दबाव एवं गहरे दबाव में बदल गया है और बुधवार को चेन्नई से लगभग 770 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है और वह तमिलनाडु और पुडुचेरी में मध्यम से भारी बारिश को प्रभावित करने वाले एक चक्रवर्ती तूफान के रूप में बदल सकता है इसके चलते अगले 3 दिनों तक भारी बारिश होने की संभावना है इसके अलावा दक्षिणी पूर्वी बंगाल की खाड़ी के ऊपर बन रहा कम दबाव का क्षेत्र 6 दिसंबर की शाम को उसी क्षेत्र में एक डिप्रेशन में बदल गया था और गहरे दबाव में तेज और हो गया मौसम विभाग ने कहा कि कराईकल से लगभग 690 किलोमीटर पूर्व दक्षिण पूर्व दक्षिण पूर्व पश्चिम और बुधवार शाम को एक चक्रवर्ती तूफान में धीरे-धीरे तेज गति और बंगाल के दक्षिण पश्चिम उत्तर दक्षिण तमिलनाडु और आंध्रप्रदेश के तटों पर 8 दिसंबर तक पहुंचने की संभावना है जिसके चलते 8 से 10 दिसंबर के बीच तमिलनाडु प्रदेश के अधिकांश स्थानों में मध्यम से तेज बारिश और अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश से बहुत भारी बारिश होने की संभावना है।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर(देहरादून) राज्य में तेरह आईएएस अधिकारियों को मिली अहम जिम्मेदारियां।।।

To Top