उत्तराखण्ड

बड़ी खबर(उधमसिंह नगर) भ्रष्टाचारी नहीं ले रहे हैं सबक.विजिलेंस ने आज और दो की गिरफ्तारी।।

उत्तराखंड के ऊधम सिंह नगर जिले में कार्यवाही करते हुए विजिलेंस टीम ने सीआरसी काशीपुर ब्लॉक में नियुक्त प्रधानाध्यापक व सहायक अध्यापक को 10,000 रूपये रिश्वत लेते रंगे हाथो गिरफ्तार किया। विजिलेंस हल्द्वानी

सेक्टर के डिप्टी एसपी अनिल सिंह मनराल ने बताया कि शिकायतकर्ता ने सतर्कता अधिष्ठान के टोल फ्री न0 1064 पर शिकायत अकित करायी गयी, कि सीआरसी काशीपुर ब्लॉक जो राजकीय प्राईमरी पाठशाला बासखेड़ा काशीपुर में स्थित है, में नियुक्त प्रधानाध्यापक दिनेश शर्मा एवं सहायक अध्यापक अंकुर प्रताप काशीपुर ब्लॉक के अंतर्गत आने वाले प्राइवेट स्कूलो में चेकिंग के दौरान उनके स्कूल में मेंटेन की जाने वाले रजिस्टरों में पकड़ी गई कमियों को उच्च स्तर पर ना भेजने के एवज़ में 10,000 (दस हजार रूपये) की रिश्वत की मांग की जा रही है। शिकायतकर्ता भ्रष्ट कर्मचारी के विरुद्ध कानूनी कार्यवाही चाहता है।उन्होंने बताया कि शिकायत सतर्कता अधिष्ठान सैक्टर नैनीताल, हल्द्वानी द्वारा जाँच से प्रथम दृष्टया सही पाये जाने पर तत्काल ट्रैप टीम का गठन किया गया।

यह भी पढ़ें 👉  (सरकारी नौकरी) युवाओं के लिए सुनहरा मौका,चार हजार युवाओं को मिलेगा रोजगार,इस तरह से करें आवेदन ।।

टीम द्वारा नियमानुसार कार्यवाही करते हुए गुरुवार को प्रधानाध्यापक दिनेश शर्मा को शिकायतकर्ता से 10,000/- (दस हजार) की रिश्वत लेते हुये रंगे हाथ एवं सहायक अध्यापक अंकुर प्रताप को रिश्वत की मांग करने के साक्ष्य होंने के आधार पर सीआरसी कार्यालय जो राजकीय प्राईमरी पाठशाला बासखेड़ा काशीपुर में ही है, से गिरफ्तार किया गया है।उक्त प्रकरण में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के अन्तर्गित प्रकरण दर्ज कर अग्रिम अनुसंधान किया जायेगा। इधर निदेशक सतर्कता डॉ0वी0 मुरूगेसन महोदय द्वारा ट्रैप टीम को नगद पुरुष्कार से पुरुस्कृत करने की घोषणा की गयी।

To Top