अल्मोड़ा

बड़ी खबर(देहरादून) चीला हादसा,महिला एसडीओ का नहीं लगा पता.कमांडेंट मणिकांत मिश्रा के नेतृत्व में चल रहा है सर्चिंग अभियान. अंधेरे के चलते रोका गया सर्चिंग कार्य.अंडरवाटर ड्रोन का भी हो रहा है इस्तेमाल।।

देहरादून-: तमाम चुनौतियों के बीच आधुनिक संसाधनों का प्रयोग कर रहे राज्य आपदा मोचन बल एसडीआरएफ ने सोमवार को चीला में हुई दुर्घटना में लापता महिला अधिकारी वन्य जीव प्रतिपालक अलोकी की ढूंढ खोज के लिए अपनी सारी ताकत झोंक दी है वन अधिकारी की ढूंढ खोज को लेकर एसडीआरएफ के कमांडेंट मणिकांत मिश्रा लगातार मौके पर उपस्थित होकर जवानों के हौसला अफजाई में लगे रहे।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर(उत्तराखंड) रश्मि नौटियाल ने लोकसेवा आयोग की परीक्षा की उत्तीर्ण।।

चीला रेंज में सोमवार को हुई सड़क दुर्घटना में चार वन अधिकारियों की मृत्यु हो गयी थी. जबकि महिला अधिकारी, वन्य जीव प्रतिपालक (SDO) चीला, आलोकी का कुछ पता नहीं चल पाया है, जिनकी तलाश में SDRF द्वारा लगातार सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है। एसडीआरएफ के कमांडेंट मणिकांत मिश्रा, के नेतृत्व में आज जहां एक ओर SDRF टीम द्वारा अत्याधुनिक खोजी उपकरण जैसे सोनार एवम अंडरवाटर ड्रोन के माध्यम से गहन सर्चिंग की गयी। वहीं दूसरी ओर SDRF के डीप डाइवर्स द्वारा स्कूबा डाइविंग करते हुए नहर के तल तक गहराइयों में खोजबीन जारी रखी। आज चीला शक्ति नहर का पानी भी रोक दिया गया , जिसके उपरांत राफ्ट, मोटर बोट इत्यादि की सहायता से भी निरन्तर नहर में सर्च किया गया परन्तु दिन ढलने तक भी लापता महिला अधिकारी का कोई पता नही लग पाया। रात्रि में बढ़ते अंधकार व कोहरे के कारण आज के सर्च ऑपरेशन को विराम दिया गया है। कल पुनः SDRF टीम द्वारा गहनता से सर्चिंग की जाएगी।

To Top