उत्तर प्रदेश

बड़ी खबर(देहरादून) यूकेएसएसएससी परीक्षा पेपर लीक मामला.आज हुई एक और गिरफ्तारी STF की बड़ी करवाई।।

🔸 एसटीएफ ने की यूकेएसएसएससी भर्ती परीक्षाओं की धांधली में शामिल 62वीं गिरप्तारी।’
🔸 यूकेएसएसएससी स्नातक स्तरीय भर्ती परीक्षा में अब 47 वें अपराधी को एसटीएफ ने किया अलीगढ़, उत्तर प्रदेश से गिरप्तार।
🔸 स्नातक स्तरीय भर्ती परीक्षा में पकडे गये अभियुक्त की गिरप्तारी पर किया गया था 50 हजार रूपये का ईनाम घोषित।
🔸 पिछले सात दिवस से उतराखंड एसटीएफ की टीम जनपद अलीगढ़, उत्तर प्रदेश में कर रही थी छापेमारी।।

यूकेएसएसएससी पेपर लीक मामले में माननीय मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी के निर्देश के क्रम में परीक्षा लीक मामले में वांछित ईनामी अपराधियों की गिरप्तारी के लिये दिये गये सख्त निर्देश के अनुक्रम में पुलिस अधीक्षक एसटीएफ चंद्र मोहन सिंह द्वारा बताया गया यूकेएसएसएससी द्वारा आयोजित कराई गई स्नातक स्तरीय परीक्षा 2021 में एसटीएफ की विवेचना से प्रकाश मे आये अभियुक्त कसान खान पुत्र नसीमुद्दीन निवासी मोहल्ला हुसैनी थाना रसूलपुर, जिला फिरोजाबाद, उत्तरप्रदेश की गिरप्तारी पर 50 हजार रूपये का ईनाम विगत वर्ष में घोषित किया गया था, तब से एसटीएफ की टीमें लगातार इस अभियुक्त की गिरप्तारी के प्रयास कर रही थी। एसटीएफ की टीमें इस अभियुक्त की गिरफ्तारी के लिए लगातार उसके संभावित ठिकानों पर विगत वर्ष से छापेमारी कर रही थी लेकिन सफलता हासिल नहीं हो पा रही थी। ऐसे में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ श्री आयुष अग्रवाल द्वारा कसान खान की गिरफ्तारी के लिए एसटीएफ की टीमों को मैन्युअल सूचनाओं को संकलित करने का निर्देश देकर पुनः ठोस कार्य योजना बनाकर अभियुक्त के सभी संबंधितों/ रिश्तेदारों व जानने वालों के बारे में मैन्युअल सूचनाओं एकत्रित कराया गया । जिसके फलस्वरूप एसटीएफ को विगत एक सप्ताह पहले कसान खान के अलीगढ़ में छिपे होने की सूचना मिली थी, जिस पर एसटीएफ की एक टीम को तत्काल जनपद अलीगढ़ उत्तर प्रदेश भेजा गया, जहां पर पिछले 07 दिनों से एसटीएफ की टीम द्वारा अभियुक्त कसान की तलाश में जगह-जगह दविशे दी गई व 07 दिन तक लगातार दिन रात मेहनत करके अभियुक्त कसान को मोहल्ला जमालपुर, जनपद अलीगढ़ उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की गई है। STF की टीम द्वारा अभियुक्त को गिरप्तार कर देहरादून लाया गया है, जिससे पूछताछ कर जेल भेजा जा रहा है।
पुलिस अधीक्षक एसटीएफ चंद्र मोहन सिंह ने आगे जानकारी देते हुये बताया कि यूकेएसएसएससी आयोग द्वारा स्नातक स्तरीय परीक्षा 2021, सचिवालय रक्षक भर्ती परीक्षा, वन दरोगा ऑनलाइन भर्ती परीक्षा एवं ग्राम पंचायत विकास अधिकारी चयन परीक्षा 2016 में हुई धांधली को लेकर दर्ज अलग अलग 04 मुकदमों की विवेचना एस.टी.एफ. द्वारा की गई हैं। उपरोक्त सभी मुकदमों में एसटीएफ द्वारा हर बिन्दु पर गहनता से विवेचना करते हुए आरोप पत्र न्यायालय को प्रेषित किए जा चुके हैं। जो अपराधी अभी तक पकड़े नहीं जा सके हैं उनकी गिरफ़्तारी हेतु एसटीएफ लगातार प्रयास कर रही है ताकि इन भर्ती प्रकरणों में संलिप्त सभी दोषियों के विरुद्ध कड़ी कानूनी कार्यवाही सुनिश्चित की जा सके। गौरतलब है कि स्नातक स्तरीय भर्ती परीक्षा में एसटीएफ द्वारा 47वें अभियुक्त की गिरप्तारी की गयी है, इस परीक्षा की धांधली में 49 अभियुक्तो की संलिप्तता प्रकाश में आई थी | जिसमें से 47 अभियुक्तों को एसटीएफ द्वारा गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है। एक अभियुक्त द्वारा मा0 उच्च न्यायालय नैनीताल से गिरफ्तारी स्थगन आदेश प्राप्त किया गया है एवं एक अन्य वांछित अभियुक्त कि गिरफ़्तारी हेतु प्रयास किये जा रहे हैं ।

गिरप्तार अभियुक्त का नाम पता-
1- काशान खान पुत्र नसीमुद्दीन निवासी म०न० 22, मोहल्ला हुसैनी थाना रसूलपुर, जिला फिरोजाबाद, उत्तरप्रदेश

यह भी पढ़ें 👉  (बड़ी खबर)हरिद्वार- अमृतसर जनशताब्दी एक्सप्रेस सहित इन ट्रेनों की बड़ी अपडेट. लगेंगे अतिरिक्त कोच ।।

अभियुक्त से पूछताछ- कसान खान ने पूछताछ में बताया कि मेरी बहन की शादी फरवरी 2022 में होनी थी । मै साल 2018 से R.M.S.कंपनी में बतौर पेपर पैकिंग, नूमेरिक टायपिंग और प्रिंटिंग मशीन में काम करता था, मेरे द्वारा आरएमएस कंपनी मे काम करने वाले रूपेंद्र जायसवाल और सादिक मुशा के कहने पर उत्तराखंड में 4/5 दिसम्बर 2021 को होने वाले स्नातक स्तरीय भर्ती परीक्षा के पेपर को 04 से 05 लाख रुपए के लालच में कंपनी के अंदर पेपर पैकिंग के दौरान अपने कपड़ों में छिपाकर बाहर लाकर रुपेंद्र जायसवाल और सादिक मूशा को दे दिया था । फिर इस केश का पता लगा तो में घर छोड़ कर भाग गया | अपनी फ़रारी के दौरान में आगरा,दिल्ली,अलीगढ़, अजमेर आदि स्थानों में भेष बदलकर रहा |
गौरतलब है कि उत्तराखण्ड एसटीएफ द्वारा 04 अभियोगों की विवेचना में यूकेएसएसएससी द्वारा आयोजित कराई गई स्नातक स्तरीय परीक्षा 2021 परीक्षा की धांधली में अब तक 47, वन दरोगा की परीक्षा में 08, सचिवालय रक्षक परीक्षा में 01 एवं ग्राम पंचायत विकास अधिकारी चयन परीक्षा वर्ष 2016 में 06 कुल 62 अभियुक्तों की गिरफ्तारी की गई है। जिनके विरुद्ध आरोप पत्र न्यायालय प्रेषित किए जा चुके है ।

गिरफ्तार करने वाली एसटीएफ की टीम
1–निरीक्षक यशपाल बिष्ट
2–उप निरीक्षक विपिन बहुगुणा
3– उप निरीक्षक नरोत्तम बिष्ट
4– उप निरीक्षक देवेंद्र भारती
5–हेड कांस्टेबल प्रमोद कुमार
6–हेड कॉन्स्टेबल देवेंद्र ममगाई
7– कांस्टेबिल नितिन चौधरी
8–कांस्टेबल रवि पंत
9–कांस्टेबल दीपक चंदोला
10- कांस्टेबल कादर खान

To Top