उत्तराखण्ड

बड़ी खबर(उत्तराखंड) और आपसी संघर्ष में मृत बाघ की हुई अत्येष्टि ।।

-: जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क में आपसी संघर्ष में घायल नर बाघ की इलाज के दौरान मौत हो गई यह नर बाघ करीब 6 से 7 वर्ष का था जिसे, ढेला स्थित ढेला रेस्क्यू सेंटर में लाया गया था, जिसका इलाज डॉ० दुष्यन्त शर्मा, वरिष्ठ पशुचिकित्साधिकारी, कार्बेट टाइगर रिजर्व के द्वारा किया जा रहा था श्री शर्मा के अनुसार प्रथम दृष्टया उक्त नर बाघ आपसी संघर्ष के दौरान घायल हुआ है तथा सोमवार की देर सायं उपचार के दौरान उक्त नर बाघ की मृत्यु हो गई। मृत नर बाघ का शव विच्छेदन डॉ० मंजुल कांडपाल, सर्जरी एवं रेडियोजॉली, गोविन्द बल्लभ पन्त प्रौद्योगिक विश्वविद्यालय पन्तनगर, -डॉ० एम० करीकलन, वैज्ञानिक वन्य प्राणी केन्द्र, भारतीय वन्यजीव अनुसंधान संस्थान, इज्जतनगर बरेली,-डॉ० हिमांशु पांगती, वरिष्ठ पशुचिकित्साधिकारी, चिडियाघर, नैनीताल, -डॉ० राहुल सती, वरिष्ठ पशुचिकित्साधिकारी, पश्चिमी वृत्त हल्द्वानी तथा डॉ० आयुष उनियाल, पशुचिकित्साधिकारी, का पैनल गठित कर कार्यवाही की गयी।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर (कैंचीधाम मेला) विभिन्न संगठन मार्ग किनारे अब नहीं कर सकेंगे भंडारा एवं शीतल पेय का वितरण आयुक्त दीपक रावत ने दिए बैठक में अहम निर्देश।।

तत्पश्चात् श्री दिगन्ध नायक, उप निदेशक, कार्बेट टाइगर रिजर्व, डॉ० दुष्यन्त शर्मा, वरिष्ठ पशुचिकित्साधिकारी, कार्बेट टाइगर रिजर्व, डॉ० शालिनी जोशी, उप प्रभागीय वनाधिकारी, कालागढ, श्री भानुप्रकाश हर्बोला, वन क्षेत्राधिकारी, ढेला, श्री कुन्दन सिंह खाती, सेवानिवृत्त उप प्रभागीय वनाधिकारी तथा एन०टी०सी०ए० द्वारा नामित सदस्य, श्री ए०जी० अन्सारी, मोहान, श्री मेराज अनवर, प्रतिनिधि, डब्लू०डब्लू०एफ०, श्री चन्द्रशेखर सुयाल, प्रतिनिधि द कार्बेट फाउण्डेशन, श्री सिद्वार्थ रावत, वन दरोगा, श्री असलम खान, वन आरक्षी, ढेला रेंज व अन्य कर्मचारी की उपस्थिति में शव का मौका पंचनामा तैयार कर उपस्थित अधिकारियों / कर्मचारियों के समक्ष शव को एन०टी०सी०ए० के मानकों के अनुसार समस्त अंगों सहित जलाकर नष्ट कर दिया गया। रामनगरन्यूज़

To Top