उत्तर प्रदेश

बड़ी खबर(देहरादून) इस विभाग में 42 पदो के लिए कैबिनेट में मिली स्वीकृति।।

देहरादून-: उत्तराखण्ड भाषा संस्थान एवं अकादमियों के विभागीय ढांचे का पुनर्गठन ।

उत्तराखण्ड भाषा संस्थान अधिनियम, 2018 के अधीन भाषा विभाग की अधिसूचना सं0-424 दिनांक 23 जनवरी, 2020 द्वारा उत्तराखण्ड भाषा संस्थान का गठन किया गया है। उत्तराखण्ड भाषा संस्थान के अन्तर्गत गठित हिन्दी, उर्दू, पंजाबी एवं लोक भाषा एवं बोली अकादमियों का उददेश्य हिन्दी, उर्दू, पंजाबी एवं लोक भाषा एवं बोलियों का विकास संवर्धन, शोधकार्य, मानकीकरण, अनुवाद कार्य इत्यादि है। वर्तमान में उत्तराखण्ड भाषा संस्थान का कार्य नितान्त अस्थायी सृजित पदों/ आउट सोर्सिंग कार्मिकों द्वारा सम्पादित किया जा रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर (उत्तराखंड) लोकसभा चुनाव इस जनपद में माo प्रेक्षक निर्वाचक पुलिस की हुई नियुक्ति।।

उत्तराखण्ड भाषा संस्थान के अन्तर्गत कमशः हिन्दी, उर्दू, पंजाबी एवं लोकभाषा एवं बोली अकादमियों द्वारा भाषा संवर्धन / संरक्षण हेतु किये जाने वाले कार्यों के सफल संचालन हेतु उत्तराखण्ड भाषा संस्थान के अन्तर्गत विभिन्न संवर्गो में कुल 51 पदों के सृजन का प्रस्ताव है जिसमें केवल 42 पदों पर स्वीकृति प्रदान की गई है।

To Top