उत्तराखण्ड

ग्राफिक एरा(हल्द्वानी) अंतर्राष्ट्रीय कांफ्रेंस में साइंस इनफार्मेशन में बोले विशेषज्ञ

ग्राफिक एरा हिल विश्वविद्यालय, हल्द्वानी के स्कूल ऑफ कंप्यूटिंग द्वारा एडवांस्ड कम्प्यूटिंग और इनफॉर्मेशन साइंस विषय पर पहली अंतराष्ट्रीय कांफ्रेंस का आयोजन

इस सम्मेलन का उद्घाटन डॉ. मनीष कुमार, निदेशक, जीईएचयू, श्री ईश्वरी सिंह राजपूत, हेड स्कूल ऑफ कंप्यूटिंग, जीईएचयू हलद्वानी, डॉ. राजीव श्रीवास्तव, प्रोफेसर और डीन, आईआईटी बीएचयू वाराणसी और डॉ. कामरेड उधम सिंह, असिस्टेंट प्रोफेसर स्कूल ऑफ कंप्यूटिंग, जीईएचयू देहरादून द्वारा किया गया।

आयोजित कॉन्फ्रेंस में कंप्यूटिंग और सूचना विज्ञान के क्षेत्र में नवीनतम प्रगति पर चर्चा के लिए दुनिया भर के विशेषज्ञों, शोधकर्ताओं को एक मंच पर लाया गया।

इस 2 दिवसीय सम्मेलन में मुख्य भाषणों, शोध पत्र प्रस्तुतियों और इंटरैक्टिव पैनल चर्चाओं की एक विविध श्रृंखला होगी।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर(देहरादून) पांच जनपदों में हीट वेव का अलर्ट, 17 जून तक ऐसा रहेगा मौसम।।

कांफ्रेंस ने प्रतिभागियों को ज्ञान का आदान-प्रदान करने, अंतर्दृष्टि साझा करने और आर्टिफियल इंटेलिजेंस और डेटा विज्ञान से लेकर क्लाउड कंप्यूटिंग और साइबर सुरक्षा तक के क्षेत्रों में सहयोग को बढ़ावा देने के लिए एक मंच प्रदान किया।

रिज़ल यूनिवर्सिटी, फिलीपींस के प्रोफेसर डॉ. डैनियल डी. दासिग ने इंडस्ट्री 5.0 के बारे में बात की। उन्होंने इसके महत्वपूर्ण बिंदुओं का गंभीर विश्लेषण करते हुए व्यवसायिक दृष्टिकोण से इसकी प्रासंगिकता को सामने रखा। उन्होंने तकनीकी प्रगति को आगे बढ़ाने में अंतःविषय अनुसंधान और नवाचार के महत्व पर जोर देते हुए कंप्यूटिंग और सूचना विज्ञान के भविष्य पर अपने दृष्टिकोण साझा किए।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर(नैनीताल)जिला बार एसोसिएशन चुनाव. ओंकार बने अध्यक्ष देखें पूरी कार्यकारिणी।।

दूसरे मुख्य वक्ता डॉ. टिंकू सिंह चुंगबुक नेशनल यूनिवर्सिटी, दक्षिण कोरिया ने डीप लर्निंग का उपयोग करके स्टॉक प्रिडिक्शन मॉडल के बारे में बात की।

इसके पश्चात सम्मेलन में डॉ. अनुपम सिंह, एसोसिएट प्रोफेसर, ग्राफिक एरा डीम्ड विश्वविद्यालय, डॉ. कामरेड उधम सिंह, असिस्टेंट प्रोफेसर स्कूल ऑफ कंप्यूटिंग, जीईएचयू देहरादून और डॉ. अरविंद कुमार तिवारी, केएनआईटी सुल्तानपुर ने अपने विचार रखे।

ग्राफिक एरा हिल यूनिवर्सिटी के निदेशक डॉ. मनीष कुमार, ने इन आयोजनों पर कहा कि एक साल के भीतर GEHU के संकाय द्वारा 62 से अधिक पेपर प्रकाशित किए गए हैं। उन्होंने छात्रों को शैक्षणिक विकास के लिए शोध कार्यों में योगदान देने के लिए प्रोत्साहित किया।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर (नैनीताल) कैंचीधाम ड्यूटी पर आ रही महिला कांस्टेबल की स्कूटी को कार ने मारी टकर. एसएसपी ने तुरंत पहुंचवाया हॉस्पिटल।।

सम्मेलन संयोजक मुकेश कुमार साहू ने वैश्विक शैक्षणिक समुदाय से मिली जबरदस्त प्रतिक्रिया और सहभागिता पर प्रसन्नता व्यक्त की। “हम विशेषज्ञों और विद्वानों के ऐसे प्रतिष्ठित समूह को एक छत के नीचे लाकर रोमांचित हैं,।”

वहीं हेड ऑफ द डिपार्टमेंट ईश्वरी सिंह राजपूत ने कहा कि इस सम्मेलन ने न केवल नवीनतम सफलताओं को प्रदर्शित किया है बल्कि भविष्य के सहयोग के लिए भी मार्ग प्रशस्त किया है जो हमारे क्षेत्र के भविष्य को आकार देगा।

मंच संचालन श्रीमती सुजाता ठाकुर नेगी ने किया। इस मौके पर ग्राफिक एरा हिल यूनिवर्सिटी के सभी शिक्षक मौजूद थे।

To Top