उत्तराखण्ड

(पिथौरागढ़) मार्ग में फंसे सैकड़ों लोगो को पहुंचाया सुरक्षित,SDRF के जवान की गोद में टुकुर टुकुर आंखों से तलाशता मासूम अपनी मां को,सुरक्षित पहुंचा गंतव्य ।।

जनपद पिथौरागढ़ में भूस्खलन से हुआ मार्ग अवरुद्ध, SDRF ने फंसे हुए लोगों को सुरक्षित मार्ग पार कराया।
पिथौरागढ़


विषम परिस्थितियां दुर्गम इलाका ऊपर से खराब मौसम इन सबके बीच भूस्खलन और पत्थर गिरने के खतरे से बेपरवाह एसडीआरएफ की टीम अपने मिशन में सुबह से लेकर शाम तक हर मोर्चे पर जूझते हुए दिखाई दे रही है हालांकि बरसात ने अब थोड़ी राहत की सांस दी है लेकिन इन सबके बीच भूस्खलन का खतरा लगातार बरकरार है फिर भी एसडी आरएफ की टीम अपने मिशन को अंजाम देने के लिए सूचना मिलते ही भगवान के रूप में आगे आती है 27 सितम्बर के भूस्खलन पर नजर डाली जाए तो DDMO पिथौरागढ़ की एक सूचना पर एसडीआरएफ अपने मिशन को निकल पड़ी गुरना मंदिर के पास भूस्खलन से आये मलवे के कारण मार्ग अवरुद्ध होने से सैकड़ो लोग फंस गए , बरसात और भूस्खलन के खतरे के बावजूद उन लोगों को सही तरीके से सुरक्षित पार कराने का जिम्मा एक बार फिर एसडीआरएफ ने उठाया उप निरीक्षक मनोहर कन्याल की रेस्क्यू टीम कांस्टेबल रोहित परिहार, संतोष सिंह,खेमराज सिंह,जगमोहन सिंग पैरामेडिकल संदीप रतूड़ी चालक जितेंद्र बिष्ट रेस्क्यू उपकरणों के साथ घटनास्थल को रवाना हुए
जहां पर चट्टान की तरह अडिग सड़क पर आए मलबे ने उनका रास्ता रोक लिया और मुख्य मार्ग पर मलबा आने से पूरी तरह ध्वस्त हो गई सडक को पार करने के लिए भी अत्यधिक खतरनाक

यह भी पढ़ें 👉  दु:खद (उत्तराखंड) मोटर साइकिल सहित गहरी खाई में गिरे दो युवकों की दर्दनाक मौत,

हो चुका था। जिसके बाद SDRF टीम ने वैकल्पिक रास्ते का चयन करते हुए वहाँ फंसे बच्चों, बुजुर्गों, महिलाओं व अन्य को अपने सुरक्षा घेरे में लेते हुए धीरे-धीरे सुरक्षित मार्ग पार कराकर गन्तव्य हेतु भेजा । यहां देखने वाली बात यह रही कि इतने बड़े मिशन को अंजाम देना एक बहुत बड़ा चुनौती से भरा काम था जहां नवजात शिशुओं को गोदी में लेकर एसटीआरएफ की टीम उन्हें सुरक्षित लेकर निकल पड़ी जहां पर बच्चों की मां भी एसडीआरएफ द्वारा की गई इस त्वरित कार्रवाई की सराहना करने से अपने आप को रोक ना सकी जो भी हो विषम चुनौती भरे मिशन को अंजाम सफलतापूर्वक देकर एसडीआरएफ ने सैकड़ों लोगों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया जो काबिले तारीफ भरा कदम है।

To Top