उत्तर प्रदेश

बिग ब्रेकिंग(नैनीताल) पहाड़ में दर्दनाक हादसा, बोल्डर कार पर गिरा, एक की मौत, तीन घायल, चंपावत में 20 मार्ग हुए बंद, भारी बरसात से जनजीवन अस्त व्यस्त, नदी नाले उफान पर ।

नैनीताल-: पहाड़ों में हो रही लगातार मूसलाधार बरसात के साथ ही यहां जनजीवन बुरी तरह से अस्त-व्यस्त हो गया है यहां हुए एक सड़क हादसे में कार पर बोल्डर आ जाने से एक व्यक्ति की दुखद मौत हो गई है इस घटना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने राहत एवं बचाव कार्य प्रारंभ करते हुए 3 लोगों को सुरक्षित निकालकर अस्पताल पहुंचाया।



घटना कैंची धाम से खैरना अल्मोड़ा की ओर से लगभग 2 km आगे की है जहां एक स्विफ्ट कार UP-21CU-7632 जिसमे चार व्यक्ति सवार थे।
अचानक ऊपर पहाड़ी की ओर से एक बड़ा पत्थर बोल्डर तेजी से कार के ऊपर गिरा जिससे कार पिचक गयी तथा उसमें सवार एक व्यक्ति गंभीर रूप से घायल हो गया व 3 अन्य व्यक्तियों को घायल हुए उक्त सूचना प्राप्त होने पर तत्काल खैरना चौकी व भवाली थाने से पुलिस बल मौके पर पहुँचकर घायलों को नजदीकी CHC खैरना पहुचाया जहाँ गंभीर रूप से घायल हुए व्यक्ति को चिकित्सक द्वारा मृत घोषित किया गया। मृतक की पहचान जतिन दिवाकर निवासी मुरादाबाद के रूप में हुई जबकि उनके साथ वाहन में सवार प्रवीन चौधरी ,अभय ,अक्षय निवासी मुरादाबाद घायल हो गए जिन्हें उपचार दिया जा रहा है ।
उधर चंपावत जिले में विगत रात से हो रही मूसलाधार बारिश के कारण से टनकपुर चंपावत एनएच सहित जनपद के लगभग 20 मार्ग बंद हुए हैं। सड़क मार्गो को खोले जाने का कार्य लगातार किया जा रहा है। सड़क निर्माण संस्थाओं के अधिकारियों, कर्मचारियों द्वारा पूरी मशीनरी एवं मैन पावर के साथ मार्ग खोलने का कार्य सुरक्षात्मक तरीके से किया जा रहा है। चंपावत टनकपुर राष्ट्रीय राजमार्ग अंतर्गत स्वाला के पास राष्ट्रीय राजमार्ग पूरी तरह क्षतिग्रस्त हुवा है जिसे खोलने का कार्य गतिमान है और फिलहाल छोटे बड़े सभी वाहनों के आवाजाही बंद है। साय तक छोटे वाहनों की आवाजाही हेतु मार्ग खोलने का हर संभव प्रयास किया जा रहा है । जिले के विभिन्न स्थानों चलथी, मूडयानी और पुल्ला में पेड़ो के गिरने से विद्युत लाइन क्षतिग्रस्त हुई है जिन्हें रीस्टोर किए जाने का कार्य किया जा रहा है और शाम तक इन क्षेत्रों में विद्युत व्यवस्था सुचारू हो जायेगी। जनपद में पेयजल की व्यवस्था सुचारू है। कुछ स्थानों में पानी की आंशिक समस्या है, जो शीघ्र ही ठीक कर ली जाएगी। मैदानी क्षेत्रों बनबसा छीनीगोठ, मनिहारगोठ में पेड़ गिरे है जिन्हें हटाए जाने हेतु कार्य किया जा रहा है। मौके पर पुलिस, फायर सर्विस, प्रशासन की पूरी मशीनरी के साथ व्यवस्थाओं को दूरस्थ करने हेतु मौजूद है। जिलाधिकारी नरेन्द्र सिंह भंडारी ने सभी लोगों से अपील की है कि कोई भी व्यक्ति अनावश्यक यात्रा करने से बचें। टनकपुर-चंपावत आवाजाही हेतु वैकल्पिक मार्गो का प्रयोग करें। उन्होंने सभी से अपील की है कि सुरक्षा की दृष्टि से सभी अपने घरों में ही रहें। उन्होंने अपील की है कि यदि आपके अपने घर के आसपास यदि किसी पहाड़ी, चट्टान से भूस्खलन हो रहा हो या होने की संभावना हो तो तुरंत ही पड़ोस में किसी अन्य घर में शरण लें और आपदा संभावित क्षेत्र में न जाए। आपदा संबंधित सूचना से आपदा कंट्रोल रूम के नंबर 05965230819 या प्रशासन को इससे अवगत कराएं। जिससे कि किसी भी प्रकार की अनहोनी से बचा जा सकें। उन्होंने टनकपुर बनबसा क्षेत्रों में जल भराव की समस्या के निदान हेतु भी आवश्यक व्यवस्था के निर्देश संबंधित विभागों को दिए हैं। जिलाधिकारी ने ग्रामीण क्षेत्रों जल भराव या मलवे से हुए नुकशान के बारे में भी जानकारी देने के निर्देश राजस्व कृषि उद्यान आदि विभागों को दिए हैं।

Ad Ad Ad Ad
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top