उत्तर प्रदेश

बड़ी खबर(टनकपुर) सीएम धामी के साथ केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने मटकोटा-हल्द्वानी. काठगोदाम- नैनीताल मार्ग सहित इन सड़कों लिए जारी की धनराशि.सात परियोजनाओं का किया शिलान्यास।।

चंपावत

  उत्तराखंड राज्य के कुमाऊं मंडल के टनकपुर भ्रमण पर पहुंचे माननीय केन्द्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्री *श्री नितिन गडकरी* ने 2217 करोड़ की कुल 7 राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं  का शिलान्यास करते हुए टनकपुर के गांधी मैदान में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि

उत्तराखंड राज्य में 2024 समाप्ति तक विश्व स्तरीय सड़कों में शामिल हो जाएगा

 *चंपावत के गुरु गोरखनाथ धाम में रोपवे का निर्माण किया जाएगा*
 *केंद्रीय सड़क निधि से उत्तराखंड को 300 करोड रुपए अतिरिक्त धनराशि दी जाएगी*

  *राज्य के विभिन्न सड़क मार्ग जिनमें वन भूमि की स्वीकृति प्राप्त होनी है ऐसे सड़क मार्गों के निर्माण हेतु वन भूमि स्वीकृत होते ही 10 हजार करोड़ की धनराशि स्वीकृत कराई जाएगी*
   *राज्य में 16 हजार 500 करोड रुपए की लागत से 60 रोपवे बनाए जा रहे हैं*

 *राज्य में पर्वतमाला योजना प्रारंभ की गई है*

   *राज्य सरकार भूमि प्रदान करेगी तो हाईवे से लगी भूमि में पार्किंग सहित पर्यटन तथा अन्य अवस्थापना सुविधाएं बढ़ाई जाएगी* 
*राज्य की भौगोलिक परिस्थितियों को देखते हुए विभिन्न विशेषज्ञों, तकनीकी संस्थानों के सहयोग से सड़क निर्माण का कार्य करने के साथ ही भूस्खलन को रोके जाने हेतु कार्य कराया जा रहा है*
  *केदारखंड से मानसखंड तक बेहतर कनेक्टिविटी बनाई जा रही है*
   *प्रदेश में सड़क कनेक्टिविटी के क्षेत्र में अनेक परियोजनाओं पर कार्य कराए जाने के साथ ही डीपीआर तैयार की जा रही है*

     *उत्तराखंड राज्य में वर्तमान में 1 लाख 40 हजार करोड़ की लागत के कार्य चल रहे हैं इस वर्ष इस धनराशि को बढ़ाकर 2 लाख करोड़ किया जाएगा।*

   *माननीय केंद्रीय मंत्री ने कहा कि वर्तमान में जो भी कार्य हो रहे हैं तथा होने हैं उनमें गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाए*

माननीय केंद्रीय मंत्री ने केंद्रीय सड़क अवस्थापना निधि के अंतर्गत जनपद उधम सिंह नगर के अंतर्गत गदरपुर-दिनेशपुर- मदकोटा-हल्द्वानी (एसएच-5) मोटर मार्ग के किमी 0 से 16 तक सुधरीकरण/पुनर्निर्माण कार्य की घोषणा की

इस अवसर पर माननीय केन्द्रीय मंत्री ने 2217 करोड़ की लागत की 7 परियोजनाओं का शिलान्यास किया जिसमें,

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर(उत्तराखंड) वाहन काली नदी में समाया.एक महिला की मौत.सहायक खाद्य निरीक्षक सहित दो लापता ।।

काठगोदाम से नैनीताल मार्ग का 2 लेन पेव्ड शोल्डर सहित चौड़ीकरण का कार्य, राष्ट्रीय राजमार्ग- 109, लंबाई 33 किलोमीटर, लागत 710 करोड़।

कंगारछीना से अल्मोड़ा मार्ग का 2 लेन चौड़ीकरण का कार्य, राष्ट्रीय राजमार्ग- 309ए, लंबाई 35 किलोमीटर लागत 451 करोड़।

कांडा से बागेश्वर मार्ग का 2 लेन चौड़ीकरण कार्य, राष्ट्रीय राजमार्ग- 309ए, लंबाई 20 किलोमीटर, लागत 203 करोड़।

काशीपुर से रामनगर मार्ग का 4 लेन चौड़ीकरण कार्य, राष्ट्रीय राजमार्ग- 309, लंबाई 18 किलोमीटर, लागत 495 करोड़।

उडयारी बैंड से कांड मार्ग का 2 लेन चौड़ीकरण का कार्य, राष्ट्रीय राजमार्ग- 309ए, लंबाई 30 किलोमीटर, लागत 349 करोड़।

बागेश्वर से सरयू नदी एवं गोमती नदी पर दो पुलों का सुद्रणीकरण का कार्य, राष्ट्रीय राजमार्ग- 309ए, लागत 5 करोड़।

राष्ट्रीय राजमार्ग- 109 पर क्षतिग्रस्त दीवारों का निर्माण कार्य, राष्ट्रीय राजमार्ग 109 लागत 4 करोड़।

    इस अवसर पर माननीय मुख्यमंत्री श्री धामी ने अपने संबोधन में कहा कि किसी भी क्षेत्र के विकास के लिए सड़क कनेक्टिविटी का होना महत्वपूर्ण है, जो आज सरकार द्वारा प्राथमिकता से गांव गांव तक सड़क सुविधा दी जा रही है। केंद्र सरकार द्वारा आज उत्तराखंड राज्य में अनेकानेक सड़क परियोजनाओं के अंतर्गत कार्य कराया जा रहा है। आज केदारखंड से मानसखंड तक बेहतर सड़क सुविधा से जोड़ा गया है। तेजी से राज्य में सड़क निर्माण के कार्य कराए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमारा राज्य देवभूमि है, यहां के धार्मिक स्थल देव स्थल हैं। जो हमारे हजारों वर्षों की पुरानी पहचान व धरोहर है। मुख्यमंत्री  ने कहा कि जन आकांक्षाओं को पूर्ण करने के लिए राज्य सरकार निरंतर कार्य कर रही है।

उन्होंने कहा कि विकल्प रहित संकल्प जो भविष्य के लिए लक्ष्य हमारे द्वारा तय किया गया है उसे प्राप्त करने के लिए हमें सामूहिक प्रयास करने होंगे। हमारा लक्ष्य हर एक नागरिक को बेहतर जीवन प्रदान करना है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि आज हमारे प्रदेश में बेहतर सड़क कनेक्टिविटी हुई है। सीमांत क्षेत्रों में सड़कों के निर्माण के साथ ही चार धाम यात्रा मार्गो के साथ ही मानसखंड मंदिर माला में विभिन्न धामों को सड़कों से जोड़ा गया है तथा जोड़ने का कार्य गतिमान है। आलवेदर सड़क का निर्माण करने के साथ ही अनेक सड़क परियोजनाओं के कार्यों के साथ-साथ संवेदनशील सड़क मार्ग में सुरक्षा के कार्य हो रहे हैं।उन्होंने कहा कि सीमांत क्षेत्र टनकपुर – चंपावत से पिथौरागढ़ – धारचूला तक सड़क चौड़ीकरण के साथ ही सुरक्षात्मक कार्य कराए गए हैं। राज्य में नई कार्य संस्कृति आई है। सभी कार्य समय पर पूर्ण हो रहे हैं।
पूर्णागिरी दर्शन करने के लिए साल भर में लाखों की संख्या में श्रद्धालु आते हैं। यह संख्या तभी बड़ी है जब यहां की रोड कनेक्टिविटी बेहतर है।
मुख्यमंत्री श्री धामी ने राज्य के कुमाऊं मंडल के विभिन्न जनपदों में रोपवे का निर्माण किए जाने की मांग माननीय केंद्रीय मंत्री के समक्ष रखी, जिसमें जनपद चंपावत के ब्यानधूरा तथा गुरु गोरखनाथ धाम तक, जनपद पिथौरागढ़ के चंडाक से हाट कलिका मंदिर तक तथा पिथौरागढ़ नगर से थल केदार मंदिर तक तथा मुनस्यारी के बलाती फार्म से खालिया टॉप तक तथा जनपद नैनीताल के देवगुरु तक रोपवे निर्माण किए जाने की मांग करते हुए कहा कि राज्य के लिए जो 59 परियोजनाएं हैं उनमें यह भी स्वीकृत कराई जाए। जिसमें गुरु गोरखनाथ रोपवे को माननीय केंद्रीय मंत्री श्री गडकरी द्वारा मंजूरी दी गई।

  इस अवसर पर अपने संबोधन में केंद्रीय रक्षा एवं पर्यटन राज्य मंत्री अजय भट्ट ने कहा कि विगत 10 वर्षों में भारत का कायाकल्प हुआ है। विश्व के सभी देश इसे मान रहे हैं।

उन्होंने कहा कि मा0 प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी की प्राथमिकता हमेशा गरीबों के उत्थान के लिए कार्य किया है। आज उत्तराखंड राज्य निरंतर विकास की ओर आगे बढ़ रहा है, सीमांत क्षेत्र में सड़क कनेक्टिविटी लगातार सुदृढ़ हो रही है। नई परियोजनाओं पर कार्य किया जा रहा है।

   इस अवसर पर मा0 लोकसभा सांसद अजय टम्टा ने अल्मोड़ा संसदीय क्षेत्र में किया जा रहे विभिन्न विकास कार्य के साथ ही चार धाम तथा मानसखंड मंदिर माला को जोड़ने हेतु बनाई जा रही सड़क परियोजनाओं के साथ ही प्रस्तावित परियोजनाओं के बारे में अवगत कराया।

कार्यक्रम के अंत में मुख्य अभियंता सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय डीके शर्मा द्वारा सभी आगंतुकों का आभार व्यक्त किया।
  इससे पूर्व माननीय मुख्यमंत्री ने माननीय केंद्रीय मंत्री के आगमन पर स्वागत किया और आभार जताया। साथ ही हेलीपैड में विभिन्न जनप्रतिनिधियों द्वारा भी केंद्रीय मंत्री का स्वागत किया।
 इस अवसर अध्यक्ष जिला पंचायत ज्योति राय, विधायक काशीपुर त्रिलोक सिंह चीमा, भाजपा जिला अध्यक्ष निर्मल महर, प्रदेश मंत्री हेमा जोशी, जिलाधिकारी नवनीत पाण्डे, पुलिस अधीक्षक अजय गणपति समेत विभिन्न जनप्रतिनिधि, अधिकारी, जनता मोजूद रही।
To Top