उत्तराखण्ड

दु:खद (चंपावत) सड़क दुर्घटना में दो छात्राओं की मौत‌. सीएम धामी ने जताया दुख।।

चम्पावत। चंपावत जिले के दूरस्थ गांव में ट्रैक्टर ट्रॉली की चपेट में आने से दो छात्राओं की दर्दनाक मौत हो गई। ये दोनों छात्राएं स्कूल से घर लौट रही थीं। छात्राओं की एकाएक हुई मौत से क्षेत्र में मातम पसर गया है। दोनों शवों को पोस्टमार्टम के लिए टनकपुर अस्पताल लाया गया है।
मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने इस घटना का संज्ञान लेते हुए अपने सोशल मीडिया अकाउंट में कहा कि
जनपद चम्पावत के सूखीढांग-डांडा -मीडार सड़क मार्ग पर वाहन दुर्घटना में दो स्कूली छात्राओं के हताहत होने का अत्यंत पीड़ादायक समाचार प्राप्त हुआ।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर(देहरादून) चारधाम यात्रा.मंदिर परिसर में रील बनाने पर प्रतिबंध. सीएस ने जारी किए आदेश।।

ईश्वर से प्रार्थना है कि पुण्य आत्माओं को श्री चरणों में स्थान और शोक संतप्त परिजनों को यह असीम कष्ट सहन करने की शक्ति प्रदान करें।

धूरा के ग्राम प्रधान कमल किशोर और बुड़म के पूर्व ग्राम प्रधान महेश बोहरा ने बताया है कि 8 मई को अपरान्ह को हाईस्कूल में पढ़ने वाली दोनों छात्राएं सूखीढांग-डांडा-मीडार सड़क पर बुड़म से कुछ दूरी पर स्कूल से अपने-अपने घरों को जा रहे थे। इस बीच सड़क से गुजर रहे एक ट्रैक्टर ट्रॉली पर चढ़ गए। सड़क के एक मोड़ पर एकाएक दोनों छात्राएं ट्रॉली से असंतुलित होकर लुढ़कीं और पहिये की चपेट में आने से कुचल गई। दोनों (बुड़म ग्राम पंचायत के सुकनी तोक की कविता (17) पुत्री हर सिंह और अनीता (16) पुत्री कौशल सिंह बुड़म तोक) छात्राओं की मौके पर ही मौत हो गई। जानकारी के बाद चल्थी चौकी से पुलिस की टीम मौके पर पहुंची। पंचनामा भरने के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए टनकपुर उप जिला अस्पताल भेजा गया है। स्कूल नहीं होने से बुड़म की ये छात्राएं 12 किलोमीटर दूर तलियाबांज स्कूल जाती थीं। इस वाकये से दोनों परिवारों में मातम पसर गया है। साथ ही क्षेत्र में भी शोक छा गया है।

To Top