उत्तरकाशी

दु:खद-: सोशल मीडिया निगल गया एक और जिंदगी,जिसके साथ समय बिताया उसके हाथ नहीं कांपे गर्दन रेततें हुए, पुलिस ने दो युवकों को किया गिरफ्तार ।।

लालकुआं

सोशल मीडिया निगल गया एक और जिंदगी ख्वाबों की दुनिया के मकड़जाल में फंसी युवती की नृशंस हत्या का पुलिस ने खुलासा कर ऐसे निर्दई युवक को गिरफ्तार करने में सफलता पाई जिसने युवती को अपने प्यार में फसाकर उससे खेला और युवती की गला रेतते समय उसके हाथ भी नहीं कांपे पुलिस ने इस घटना में लिप्त दोनों युवकों को गिरफ्तार कर उनका चालान कर दिया ।

घटना का खुलासा करते हुए अपर पुलिस अधीक्षक हरबन्स सिंह ने बताया कि लालकुआं मोटाहल्दू खडकपुर निवासी मालती देवी पत्नी खीम राम ने कोतवाली लालकुआं पुलिस को उनकी पुत्री कुमारी अंजली आर्य बीती 3 अग्रस्त को समय 9 बजे घर से कही चले जाने व वापस ना आने के संबंध में तहरीर सौपी थी। पुलिस ने तहरीर के आधार पर बीती 4 अग्रस्त को गुमशुदगी दर्ज कर लालकुआं पुलिस ने संबंधित धाराओं के तहत मुकदमा पंजीकृत किया तथा मामले की विवेचना उपनिरीक्षक कृपाल सिंह के सुपुर्द की गई।
वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक नैनीताल के आदेश अनुसार क्षेत्राधिकारी लालकुआं अभिनय चौधरी के निर्देश में गुमशुदा अंजली आर्य की तलाशी हेतु तीन टीमें गठित की गई थी, जिन्हें तलाश हेतु भिन्न-भिन्न राज्यो हेतु रवाना किया गया। दौराने जांच घटना में दो व्यक्तियो यामीन व सचिन सक्सेना उर्फ छोटू के सम्मलित होने के सम्बन्ध में साक्ष्य प्राप्त हुये।
शक के आधार पर उक्त दोनो व्यक्तियों को पूछताछ हेतु थाना पुलभट्टा बुलाकर गहन पूछताछ की गयी तो दोनो संदिग्धो द्वारा बताया गया, कि अंजली आर्या से यामीन की दोस्ती फेसबुक व व्हसएप के माध्यम से हो गयी थी, जिससे उनके आपस में काफी अच्छे दोस्ताना सम्बन्ध बन गये थे। दोनो किच्छा क्षेत्र में अक्सर मिलते रहते थे। अंजली यामीन से शादी करने का दबाव बना रही थी और खर्चे की मांग कर रही थी। यामीन उससे शादी नहीं करना चाहता था और उसे किसी भी तरह पीछा छुडाना चाहता था। सोची समझी योजना के तहत तीन अग्रस्त को यामीन ने अंजली को मय सामान के किच्छा बुलाया। किच्छा आने के बाद अंजली आर्या ने यामीन को फोन किया तो यामीन अपने भाई की बुलेट मोटर साईकिल लेकर अंजली को लेने किच्छा गया तथा वहां से अपने मित्र सचिन को फोन कर किच्छा बुलवाया वहा से यामीन तथा सचिन सक्सेना अंजली को मोटर साईकिल में साथ लेकर शक्ति फार्म रोड में वन विभाग की चौकी से आगे शहदोरा जंगल में बायी तरफ सड़क से लगभग 500 मीटर अन्दर जंगल में जाकर नाले के किनारे यामीन द्वारा चाकू से अंजली आर्या की गला रेत कर हत्या कर दी तथा आला कत्ल मौके पर ही फेककर यामीन मोटर साईकिल से बेगूल डाम गया, जहा यामीन ने अपने खून के सने कपड़े धोये और यामीन ने सचिन सक्सेना को बहेडी उसके काम वाले स्थान पर छोडा तथा यामीन अपने घर चला गया। इधर आज 27 अगस्त शनिवार को दोनो की निशादेही के आधार पर शहदोरा जंगल से अपहर्ता / गुमशुदा अंजली आर्या का मृत शव तथा आलाकात चाकू बरामद किया गया है। बरामदगी के आधार पर आरोपियों के खिलाफ संबंधित धाराओं के तहत मामला पंजीकृत किया गया।
पुलिस टीम में वरिष्ठ उप निरीक्षक बलवान कंबोज, उप निरीक्षक कृपाल सिंह, उप निरीक्षक त्रिभुवन सिंह, कॉन्स्टेबल आनंदपुरी, कॉन्स्टेबल किशोर रौतेला, कॉन्स्टेबल प्रदीप पिलखवाल, कॉन्स्टेबल अनिल शर्मा शामिल रहे

Ad Ad Ad Ad
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top