उत्तराखण्ड

दु:खद-:दुराचार की शिकार हुई युवती.जान से मार देने की धमकी के साथ किया युवक ने दुष्कर्म ।।

सिडकुल में नौकरी दिलाने का झांसा देकर टैंपो चालक ने एक युवती को नशीला पदार्थ सुंघाकर घर में बंधक बना दिया और उसके साथ दुष्कर्म किया। बाद में युवक और उसके परिवार वाले युवती पर जबरन शादी करने का दबाव बनाने लगे। पीड़िता ने किसी तरह वहां से बचकर परिजनों को आप बीती बतायी। पुलिस से शिकायत के बाद भी मामले में कार्रवाई नहीं होने पर न्यायालय की शरण ली गयी। कोर्ट के आदेश पर पुलिस ने आरोपी टैंपो चालक और उसके परिवारजनों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।
प्रार्थना पत्र में भूतबंगला निवासी एक व्यक्ति ने बताया कि उसकी 18 वर्षीय पुत्री सिडकुल की एक कंपनी में काम करने जाती थी। अचानक एक दिन उसकी पुत्री को 28 सितम्बर 2022 को वह कंपनी से आने के बाद बाजार जाने के लिए कहकर गयी और वापस नहीं आयी। जिस पर रम्पुरा चौकी में गुमशुदगी की की रिपोर्ट दर्ज करायी। 6 अक्टूबर को युवती सुबह साढ़े आठ बजे बदहवास हालत में घर आयी और उसने आपबीती बताई तो परिवार वालों के होश उड़ गये। युवती ने बताया कि जिस कम्पनी में काम करने जाती है उस कम्पनी के ठेकेदार ने 28 सितम्बर 2022 को उसे काम से निकाल दिया। जब वह घर वापस आने के लिये पारले चौक सिडकुल पर टैम्पू का उदास होकर इंतजार कर रही थी तब एक टैम्पू वाला मिला।
सहानुभूति दिखाते हुए टैंपो वाले ने कहा कि वह दूसरी फैक्ट्री में काम लगवा देगा, अपना आधार कार्ड घर से ले आओ। टैम्पू में बैठकर वह घर आयी और अपना आधार कार्ड लेकर दुबारा टैम्पू वाले के साथ यह कहकर चली गयी। इसी बीच टैम्पू वाले ने कुछ नशीला पदार्थ सुंघा दिया और घर ले गया। जहां टैंपो वाले ने उसके साथ दुष्कर्म किया। जब उसने बंधक बनाये जाने का विरोध किया तो टैंपो वाले की माँ बहनों ने मारपीट की और कमरे में बन्द कर दिया और धर्म बदलवाकर शादी करवाने की बात कहने लगे। पीडिता के मुताबिक टैम्पू वाले का नाम उसके घर वाले अमन बोल रहे थे। उक्त अमन ने बंधक बनाकर उसके साथ दो बार दुष्कर्म किया। जब परिवार वालों को गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज होने का पता चला तो टैम्यू वाले के भाई अजय ने इन्द्रा चौक पर धमकी देते हुए छोड़ दिया और धमकी दी कि पुलिस में रिपोर्ट लिखाई तो तुझे व तेरे परिवार वालों को जान से मरवा देगें। पीड़ित के पिता ने बताया कि घटना की रिपोर्ट चौकी तथा थाने में दी परन्तु कोई कार्यवाही नही की गयी है। न्यायालय के आदेश पर पुलिस ने अब मामले में अमन, उसके भाई अजय अमन की माँ एवं बहन आदि के खिलाफ सम्बंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। उधम सिंह नगर

Ad Ad Ad Ad
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top