उत्तर प्रदेश

ब्रेकिंग-:(डोकरानी बामक ग्लेशियर दुर्घटना) रेस्क्यू टीम ने सुबह सुबह आठ पर्वतारोहियों को किया सुरक्षित रेस्क्यू,अस्पताल में एडमिट, सभी है स्वस्थ ।।

जनपद उत्तरकाशी के डोकरानी बामक ग्लेशियर में हुआ एवलांच, निम के 29 प्रशिक्षार्थी फंसे, SDRF टीम जूटी रेस्क्यू में।
उत्तरकाशी
उत्तरकाशी में नेहरू पर्वतारोहण संस्थान (निम) में प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे 29 प्रशिक्षार्थी डोकरानी बामक ग्लेशियर में एवलांच की चपेट में आने से वहां फंसे हुए है। जिसके बाद आज बुधवार को बड़ा रेस्क्यू अभियान चलाते हुए 8 लोगों को सुरक्षित ग्लेशियर से रेस्क्यू किया गया जिसमें कंचन सिंह पुत्र मेहरबान सिंह निवासी चमोली अंकित पुत्र बेचैन कबडियाल देहरादून, प्रदीप कुमार पुत्र तरुण कुमार निवासी इंडियन नेवी, रेखा पुत्री के एस अग्निहोत्री, बबीता पुत्री उत्तम सिंह उत्तरकाशी, राकेश पुत्र उत्तम सिंह निवासी उत्तरकाशी अंकुश पुत्र निलेश शर्मा देहरादून मनीष अग्रवाल पुत्र अशोक अग्रवाल निवासी नई दिल्ली जो घायल हो गए थे जिन्हें उपचार हेतु लाया गया जहां सभी पूरी तरह से स्वस्थ हैं।
नेहरु पर्वतारोहण संस्थान (निम) का डोकरानी बामक ग्लेश्यिर में द्रोपदी डांडा-2 पहाड़ी पर बीते 22 सितंबर से बेसिक/एडवांस का प्रशिक्षण चल रहा था, जिसमें बेसिक प्रशिक्षण 97 प्रशिक्षार्थी, 24 प्रशिक्षक व निम के एक अधिकारी समेत कुल 122 लोग शामिल थे। जबकि एडवांस कोर्स में 44 प्रशिक्षणार्थी व नौ प्रशिक्षक समेत कुल 53 लोग शमिल थे। 

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर (देहरादून) गर्भवती महिला मौत मामला. स्वास्थ्य मंत्री धन सिंह रावत ने लिया एक्शन ।।

उक्त संबंध में निम द्वारा भी रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है, जिस दौरान 08 लोगों को घटनास्थल से सुरक्षित निकाल लिया गया है। अन्य 21 लोगों के रेस्क्यू हेतु SDRF, NDRF, NIM, एयर फोर्स व अन्य बचाव इकाइयों द्वारा युद्धस्तर पर रेस्क्यू अभियान चलाया जा रहा है।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर (हल्द्वानी) जिला निर्वाचन अधिकारी श्रीमती वंदना सिंह ने मतदाता जागरूकता लघु फिल्म की लॉन्च।।

आज प्रातः पुनः रेस्क्यू अभियान चलाते हुए 06 लोगों को घटनास्थल से रेस्क्यू कर हेलीकॉप्टर के माध्यम से मातली हेलीपैड पहुँचाया गया जहां से SDRF टीम द्वारा उन्हें उपचार हेतु मातली ITBP अस्पताल भर्ती कराया गया है।

To Top