Connect with us

उत्तराखण्ड

(उत्तराखंड महोत्सव) मुख्यमंत्री ने कहा 4 माह में लिए 400 फैसले जिस पर हो रहा है अमल,गैरसैंण हम सबकी भावनाओं का है केंद्र बिंदु,154 किलोमीटर की टनकपुर से बागेश्वर रेल लाइन को भी मिली स्वीकृति ।।

मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को मुख्यमंत्री आवास में उत्तराखण्ड महोत्सव के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में प्रेस प्रतिनिधियों से अनौपचारिक वार्ता करते हुए सभी को राज्य स्थापना दिवस की शुभकामना दी।

देहरादून

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस वर्ष से राज्य स्थापना दिवस के अवसर पर उत्तराखण्ड महोत्सव के आयोजन का भी निर्णय लिया गया है। जिसमें ग्राम सभा स्तर तक लोगों की भी भागीदारी सुनिश्चित किये जाने का प्रयास किया गया है। साथ ही राज्य स्तर पर विभिन्न क्षेत्रों में विशिष्ट कार्य करने वाले 5 व्यक्तियों को उत्तराखण्ड गौरव से सम्मानित किये जाने की योजना बनायी गई है।
पूर्व प्रधानमंत्री स्व. श्री अटल बिहारी वाजपेई ने 21 वर्ष पहले उत्तराखण्ड राज्य बनाया था । इन 21 वर्षों की यात्रा में राज्य में सड़क, स्वास्थ्य, शिक्षा के साथ अन्य क्षेत्रों में उल्लेखनीय प्रगति की है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हाल ही में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा केदारनाथ में अपने सम्बोधन में 2020 से 2030 के दशक को उत्तराखण्ड का दशक बताया है। इसके लिये हम संकल्प व वचनबद्धता के साथ कार्य करते हुए राज्य के रजत जयन्ती के अवसर पर उत्तराखण्ड को आदर्श एवं देश के अग्रणी राज्यों में पहचान दिलाने का हमारा प्रयास है। प्रधानमंत्री श्री मोदी के विजन के अनुरूप राज्य का सर्वांगीण विकास की दिशा में हम कार्य कर रहे हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में प्रदेश में चार धाम की ऑल वेदर रोड, भारतमाला श्रृंखला के अंतर्गत एक कोने से दूसरे कोने को जोड़ने का कार्य हो रहा है। जिससे कि सुगमता और सरलता से आवागमन सुलभ हो सके, इसके साथ ही हवाई कनेक्टिविटी के क्षेत्र में भी बहुत काम हुआ है देहरादून के एयरपोर्ट का भी विस्तार किया गया है। पहले हम सोचते थे कि रेल का पहाड़ में जाना एक सपना है आज मोदी जी के नेतृत्व में ऋषिकेश से कर्णप्रयाग रेलवे लाइन पर बहुत तेजी से कार्य चल रहा है, और 2024-25 तक रेल का पहाड़ में जाने का सपना साकार हो जाएगा। 154 किलोमीटर की टनकपुर से बागेश्वर रेल लाइन को भी स्वीकृति मिल गई है, रुड़की देवबंद लाइन की भी स्वीकृति मिल चुकी है, ऋषिकेश डोईवाला रेलवे लाइन की भी स्वीकृति मिल गई है, कुमांऊ क्षेत्र में भी एम्स के सेटेलाइट सेंटर खोलने की स्वीकृति प्राप्त हो गई है। जमरानी बांध से हजारों हेक्टेयर कृषि भूमि सिंचित करने और लोगों को पानी उपलब्ध कराने की व्यवस्था होगी। देहरादून से टिहरी टनल का प्रस्ताव भी केंद्र सरकार को दिया है उस पर भी सैद्धांतिक स्वीकृति मिल गई है। महत्वकांक्षी परियोजना लखवाड़ व्यासी का भी कार्य अंतिम चरण पर है। बहुत सारे कार्य प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में शुरू हुए हैं, उन कामों को धरातल पर उतारने का काम हम कर रहे हैं। हमारी पहली चुनौती है कि हम उन सभी कामों को धरातल पर उतारें और जिन कामों के शिलान्यास हो चुके हैं वे सारे के सारे काम पूरे हों। हमने जो घोषणाएं की हैं वे घोषणाएं पूरी हो, हम एक सशक्त उत्तराखंड उत्तम उत्तराखंड बनाने के लिए लगातार काम कर रहे हैं

यह भी पढ़ें 👉  कोरोना अपडेट-:आज पांच लोगों की मौत,नहीं थम रहा है कोरोना का प्रकोप,अपने जनपद का हाल जानने के लिए लिंक पर क्लिक करें....

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे पास प्रधानमंत्री श्री मोदी के रूप में विश्व का सबसे बड़ा नेतृत्व है। हम एक-एक क्षण और पूरे मनोयोग से कार्य कर रहे हैं। पिछले चार माह में राज्य सरकार ने 400 से अधिक फैसले लिए हैं। सभी को धरातल पर उतारने का काम हो रहा है। हमें आपदा का सामना करना पड़ा लेकिन उससे भी हम धीरे-धीरे उबर रहे हैं। केंद्र सरकार उत्तराखंड को लेकर बहुत ही संवेदनशील है, जो पूरी तरह से हमारे साथ खड़ी हुई है। राज्य को डबल इंजन का निश्चित रूप से लाभ मिल रहा है। प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा है 21 वीं सदी का तीसरा दशक उत्तराखण्ड का है। प्रधानमंत्री श्री मोदी की अपेक्षाओं पर हम पूरी तरह से खरे उतरेंगे इसके लिये हम पूरी कोशिश भी कर रहे हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि गैरसैंण में ग्रीष्मकालीन राजधानी बनने के पश्चात जो भी जरूरी काम होंगे वह हम करेंगे। गैरसैंण हम सबकी भावनाओं का केंद्र बिंदु है उसको लेकर किसी को चिंतित होने की आवश्यकता नहीं है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आपदा के समय हमने तत्परता के साथ रेस्क्यू ऑपरेशन चलाए गए।

Ad
Continue Reading

पोर्टल का मुख्य उद्देश्य उत्तराखंड तथा देश-विदेश की ताज़ा ख़बरों व महत्वपूर्ण समाचारों से आमजन को रूबरू कराना है। अपने विचार या ख़बरों को प्रसारित करने हेतु हमसे संपर्क करें। Email: [email protected] | Phone: +91 94120 37391

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in उत्तराखण्ड

Uttarakhand News

Uttarakhand News

Trending News

Like Our Facebook Page