Connect with us

उत्तर प्रदेश

(शाबाश)11 साल का बच्चा और 10 घंटे का चला बड़ा ऑपरेशन,बच्चे की मां ने ऑपरेशन करने वालों का इस तरह से किया शुक्रियाअदा ।

लुक्सर गांव से अगवा 11 साल के बच्चे के एक किडनैपर को पुलिस ने सोमवार को एनकाउंटर के दौरान मार गिराया. जबकि उसके दो साथियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. अपहरणकर्ता बच्चे को छोड़ने के एवज में 30 लाख रुपये की फिरौती की मांग कर रहे थे।


दिल्ली से सटे यूपी के नोएडा में 5 बहनों के इकलौते भाई की किडनैपिंग
का मामला पुलिस ने सुलझा लिया है. साथ ही बच्चे को सकुशल उसके परिवार के पास भेज दिया गया है. जितनी देर तक मासूम किडनैपर्स के कब्जे में रहा, पूरे घर का रो-रोकर बुरा हाल था. मां बेहाल थी और बहनें रो रही थीं. नोएडा पुलिस ने 10 घंटे के बड़े ऑपरेशन के दौरान एक अपहरणकर्ता को मार गिराया जबकि दो आरोपियों के पैर में गोली लगी है. पुलिस ने इनके पास से फिरौती के 29 लाख रुपए भी बरामद कर लिए हैं।
सोमवार देर शाम बच्चे को छुड़ाने के बाद जब पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह अपनी टीम के साथ लुक्सर गांव स्थित बच्चे के घर पहुंचे. इस दौरान बच्चे की मां पुलिस कमिश्नर के पैरों से लिपट पड़ी और बहनें पुलिस अफसर से लिपटकर रोने लगीं. पुलिस कमिश्नर ने भी बच्चों को दुलारा और विनम्रता दिखाते हुए बच्चों की मां को पैर छूने से रोका.

यह भी पढ़ें 👉  दु:खद-: मासूम फिर बन गया गुलदार का निवाला. गांव में मातम तो परिवार में कोहराम.नहीं थम रहा है वन्यजीवों के साथ संघर्ष।।

पुलिस अफसर आलोक सिंह से मासूम के परिजनों ने कहा कि आपने हमारे बच्चे को वापस लाकर घर के चिराग रोशन कर दिया. आज नोएडा पुलिस की वजह से हमारे घर का चिराग का सकुशल लौट पाया है
इस मामले में हैरानी की बात यह है कि किडनैपिंग और फिरौती लेने वाला आरोपी शिवम बच्चे के पिता मेघ सिंह के घर काम कर चुका है. शिवम मूल रूप से बदायूं का रहने वाला है और ग्रेटर नोएडा में दिहाड़ी मजदूरी का काम करता था. वह मेघ सिंह के घर तीन-चार महीने पहले ड्राइवर की नौकरी भी कर चुका था.
इतना ही नहीं, मेघ सिंह के परिवार को जब भी कोई जरूरत पड़ती थी तो वह कामकाज के लिए शिवम को बुला लिया करते थे. आरोपी को घर के बारे में पूरी जानकारी थी. यही वजह थी कि उसने पूरी प्लानिंग के तहत किडनैपिंग की वारदात को अंजाम दिया था. अपहरणकर्ताओं ने किडनैपिंग के बाद बच्चे को सूरजपुर इलाके में छिपाकर रखा था.
पुलिस एनकाउंटर में 2 बदमाश बदायूं निवासी विशाल मौर्या, रिषभ घायल हो गए. लेकिन इनके दो साथी विशाल पाल और शिवम मौके से फरार हो गए थे. फरार अपराधियों की तलाश में जुटी पुलिस की सोमवार शाम को चुहड़पुर अंडरपास के पास बदमाशों से मुठभेड़ हो गई. पुलिस को देख बदमाशों ने गोलियां चलाईं. जवाबी फायरिंग में पुलिस की दो गोलियां शिवम को जा लगीं. इलाज के लिए घायल को अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.
इस कार्रवाई में बदमाशों की गोली लगने से एसआई वरुण पवार घायल हो गए हैं. उन्हें उपचार के लिए जिम्स अस्पताल में भर्ती कराया गया है. वहीं, बच्चे को सकुशल बरामद करने और बदमाशों को मुठभेड़ के दौरान गिरफ्तार करने वाली पुलिस टीम को पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने 50 हजार रुपये इनाम देने की घोषणा की है

Continue Reading
Advertisement

पोर्टल का मुख्य उद्देश्य उत्तराखंड तथा देश-विदेश की ताज़ा ख़बरों व महत्वपूर्ण समाचारों से आमजन को रूबरू कराना है। अपने विचार या ख़बरों को प्रसारित करने हेतु हमसे संपर्क करें। Email: [email protected] | Phone: +91 94120 37391

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in उत्तर प्रदेश

Uttarakhand News

Uttarakhand News

Trending News

Like Our Facebook Page

Author

Founder – Om Prakash Agnihotri
Website – www.uttarakhandcitynews.com
Email – [email protected]