उत्तर प्रदेश

ब्रेकिंग (उत्तराखंड)अवैध केमिकल शराब की फैक्ट्री चलती रही आबकारी विभाग को नहीं लगी हवा अब गिरी इन अधिकारियों पर गिरी गाज

देहरादून -; उधम सिंह नगर में पूरा अवैध शराब का कारखाना चलाता रहा लेकिन आबकारी विभाग को इसकी हवा तक नहीं थी पुलिस विभाग द्वारा अवैध शराब का कारखाना पकड़ने के बाद आबकारी विभाग के आला अधिकारियों ने प्रकरण को गंभीरता से लिया देहरादून आबकारी मुख्यालय ने बाजपुर में तैनात आबकारी विभाग में तैनात 2 निरीक्षक, मोहन सिंह कोरंगा और सोनू सिंह, एक उप निरीक्षक देवेंद्र कुमार व एक प्रधान सिपाही नितिन कुमार और 2 सिपाही धर्म सिंह, जगवती के खिलाफ निलंबन की कार्रवाई की गई। लेकिन जिला आबकारी अधिकारी को इस कार्यवाही से पूरी तरह से दूर रखा गया।
विदित रहे कि बीते दिनों उधम सिंह नगर के गूलरभोज में पुलिस ने रोशनपुर गांव में एक मकान में चल रही नकली देसी शराब बनाने की फैक्टरी का भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने शराब बनाने और सप्लाई करने वाले छह आरोपियों को गिरफ्तार किया है। इनमें तीन सगे भाई हैं और दो दंपत्ती हैं। इस गिरोह का सरगना फरार है। पुलिस ने बड़ी मात्रा में देशी शराब, शराब बनाने में इस्तेमाल केमिकल और उपकरण बरामद किए थे।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर(देहरादून) अब स्कूलों के परीक्षा का जारी हुआ मासिक कैलेंडर।।।

टीम ने मौके से खाली पव्वों के ढक्कन, बाजपुर गुलाब लिखी चिटें, उत्तराखंड शासन उत्तराखंड आबकारी लिखी चिट सहित शराब बनाने में इस्तेमाल केमिकल, उपकरण, होंडा सिटी कार यूपी 16जे- 8968 में भरी 6 पेटी शराब बरामद की। साथ ही टीम ने कुंडेश्वरी काशीपुर स्थित गोदाम से आठ ड्रम शराब बनाने के केमिकल भी जब्त किए।

यह भी पढ़ें 👉  (बड़ी खबर)उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग ने इन परीक्षाओं की तिथियां की घोषित ।।

पता चला है कि सुखबिंदर सिंह उर्फ सोनू निवासी बेरिया दोलत केलाखेड़ा के लिए काम करते हैं। अवैध देसी शराब बनाकर उसे कुमाऊं के पर्वतीय क्षेत्रों में बेचने के लिए ले जाते हैं। इस मामले में अभियुक्तों के खिलाफ धारा 60/60(2)/12 आबकारी अधिनियम के तहत केस दर्ज किया गया है। बताया कि फरार सुखबिंदर की तलाश की जा रही है।

To Top