उत्तर प्रदेश

बिग ब्रेकिंग (उत्तराखंड) हल्द्वानी में महिला बनी नागिन. इस तरह से व्यापारी को मारकर लिया बदला ।।

हल्द्वानी-: पुलिस ने होटल व्यवसाय हत्याकांड का खुलासा करते

हुए एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया है जबकि इस घटना में शामिल सभी लोग फरार चल रहे हैं पुलिस उनकी सरगर्मी से तलाश कर रही है वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पंकज भट्ट ने व्यापारी अंकित चौहान हत्याकांड का खुलासा करते हुए बताया कि अंकित की हत्या सांप से डसवा कर की गई और इसकी साज़िश रची उसी की गर्लफ्रैंड माही ने। तो अपने साथियों सहित फरार है जिसको नेचुरल डेथ देने की पूरी कोशिश की गई । उत्तराखंड का यह पहला ऐसा हत्याकांड जिसमें सांप से डसवा कर पुरी वारदात को अंजाम दिया गया है ।


हत्याकांड के पीछे जो वजह सामने आयी वो कम चौंकाने वाली नहीं दरअसल माही उर्फ डॉली अपने जीवन में अंकित के दखल से खफा थी और इसी वजह से उसने अंकित को रास्ते से हटाने की साजिश रची। इस साजिश में उसने एक सपेरे, एक दोस्त और नौकर-नौकरानी को शामिल किया था। सपेरा तो पुलिस की गिरफ्त में आ गया, लेकिन माही समेत अन्य आरोपी देश छोड़ कर फरार हो गए।

इस पूरे हत्याकांड में पांच लोग शामिल हुए मास्टरमाइंड माही उर्फ डॉली के अलावा नौकरानी ऊषा देवी और उसका पति रामऔतार, दीप कांडपाल, और सपेरा रमेश नाथ ने घटना को अंजाम दिया।

तलाश में जुटी पुलिस ने सपेरे रमेश नाथ को गिरफ्तार किया तो सारा मामला खुल गया। उसने बताया कि अंकित की हत्या माही के घर में की गई। जिसमें माही के साथ खुद सपेरा, माही का कथित ब्वॉयफ्रेंड दीप कांडपाल, नौकर राम अवतार और रामअवतार की पत्नी शामिल थी। सपेरे के अलावा अन्य चारों देश छोड़ कर फरार हो चुके हैं। सपेरे के मुताबिक सभी नेपाल में छिपे हैं।

घटना में सपेरे रमेश को शामिल करने के लिए माही ने पहले उसे गुरू बनाया और फिर नजदीकी बढ़ाकर उसे अपने घर ले आई। माही ने उसको कत्ल को मुकम्मल अंजाम तक पहुंचाने के लिए 10 हजार रुपये भी दिए। पुलिस ने न सिर्फ सपेरे को गिरफ्तार किया बल्कि उसका मोबाइल और कत्ल के लिए दिए गए 10 हजार रुपये भी बरामद कर लिए हैं।पुलिस के शिकंजे में आया सपेरा रमेश नाथ पुलिस के सामने सारे राज़ खोलता चला गया। उसने बताया कि घटना को अंजाम देने से पहले माही उसके साथ दो बार हमबिस्तर हुई और हत्या में शामिल होने के लिए 10 हजार रुपये भी दिए। बीते शुक्रवार की रात योजना के तहत माही ने रात करीब 8 बजे अंकित को घर बुलाया
इससे पहले दोपहर 3 बजे ही सपेरा कोबरा सांप लेकर माही के घर पहुंच चुका था। माही ने सपेरे और नौकर-नौकरानी को मंदिर के कमरे में छिपा दिया था। जिसके बाद रात कथित ब्वॉयफ्रैंड दीप कांडपाल स्कूटी से माही के घर पहुंचा। योजना के तहत नशीली गोली खिलाकर अंकित को बेहोश कर दिया गया।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर(हल्द्वानी) बेल बाबा स्थित वाहन फिटनेस सेंटर पर आयुक्त का छापा. कल की घटना के बाद एक्शन में आयुक्त।।

जिसके बाद उसे बेड पर उल्टा लिटाया गया। होश में आकर अंकित विरोध न करने लगे तो सांप से डसवाने से पहले एक ने उसके हाथ, पैर पकड़े और चौथा अंकित की पीठ पर लद गया। जिसके बाद सपेरे रमेश ने कोबरा से अंकित के एक पैर में डसवाया, लेकिन वह जिंदा न रह जाए तो दूसरे पैर में भी ठीक उसी स्थान पर डसवाया गया। इस हत्याकांड के बाद मौत को स्वभाविक रंग देने के लिए भी मास्टरमाइंड माही उर्फ डॉली ने बड़े शातिर तरीके से दांव खेले। लेकिन पुलिस के तेजतर्रार अधिकारियों ने इस हैरतअंगेज और उलझे हुए हत्याकांड का पर्दाफाश कर दिया।
गठित पुलिस टीमों द्वारा घटनास्थल पर लगे सीसीटीवी कैमरों का गहनता से अवलोकन किया गया मोबाइल सर्विलांस टीम द्वारा मृतक के कॉल डिटेल की संपूर्ण जानकारी प्राप्त कर मृत्यु से पूर्व अंकित के सम्पर्क में आये व्यक्तियों का डाटा तैयार किया गया। पूछताछ टीम द्वारा मृतक के दोस्तों रिश्तेदारों व आस पड़ोस में पूछताछ की गयी।
समस्त टीमों द्वारा किये गये प्रयासों से एव घटनास्थल से पूर्व वाहन के उक्त स्थल पर पहुँचने तक के समस्त रूटों का सीसीटीवी से रूट मैप तैयार करने एंव पारम्परिक पुलिसिंग के माध्यम से एकत्र की गयी सूचनाओं के आधार पर यह तथ्य संज्ञान में आये कि मृतक का किसी महिला के साथ सम्बन्ध था एंव उक्त महिला एंव उसके साथी अंकित को काफी समय से ब्लैकमेल कर रहे थे।
इसी तय पर जाँच को केन्द्रित करते हुए समस्त टीमों द्वारा जाँच की गयी तो यह तथ्य संज्ञान में आये कि मृतक अंकित चौहान का माही उर्फ डॉली नाम कि एक महिला के साथ मित्रता थी एंव घटना की तिथि में अंतिम समय वह माही के घर के लिए निकला था एंव अगले दिन उसका शव कार से बरामद हुआ। अकित एव माही तथा अन्य संदिग्धों की कॉल डिटेल का अवलोकन करने पर कुछ संदिग्ध नम्बरों की डिटेल निकालकर उनकी तलाश जारी रखी गयी तो इसी क्रम में घटना कि तिथि को लगातार माही के सम्पर्क में रहे एक संदिग्ध नम्बर जो कि रमेश नाथ के नाम से था।

यह भी पढ़ें 👉  (रेलवे ब्रेकिंग)बरसात ने लगाया इस ट्रेन पर ब्रेक. लालकुआं से नहीं चलेगी लंबी दूरी की यह ट्रेन।।

जिसके सम्बन्ध में जानकारी करने पर यह ज्ञात हुआ कि उक्त व्यक्ति हल्द्वानी में किराये पर रहता था जो कि सपेरा है एवं साँप पकड़ने का कार्य करता है शक होने पर 18.जुलाई को उक्त व्यक्ति को हल्द्वानी से पकड़ा गया एंव सख्ती से पूछताछ की गयी तो उसके द्वारा हत्या कि साजिश का खुलासा किया गया।।
अभियुक्त रमेश नाथ ने बताया कि वह हल्द्वानी में मानपुर पश्चिम में निवास करता है एवं घर-घर जाकर माँगने खाने एंव साँप पकड़ने का कार्य करता है। लगभग 7-8 माह पूर्व हल्द्वानी के एक व्यक्ति द्वारा मुझे माही से मिलवाया गया था एंव मुझे यह कहा था कि इस पर कालसर्प योग है तो पूजा हेतु एक नाग आपको पकड़कर लाना है। इसके कुछ समय बाद मेरा माही के घर आना जाना हो गया था। माही के घर पर ही अक्सर अंकित चौहान, दीप काण्डपाल एवं उसकी नौकरानी तथा नौकरानी का पति रामऔतार आते रहते थे।

लगभग 20-25 दिन पहले हम सभी लोग माही के घर में थे तो माही एवं दीप काण्डपाल ने मुझसे कहा कि अंकित चौहान ने माही का जीना हराम कर दिया है वह कभी भी माही के घर पर आ जाता है और शराब पीकर इसके साथ काफी मारपीट करता है और दीप ने कहा कि माही अब मुझसे प्यार करती है लेकिन यह अंकित चौहान पीछा नहीं छोड़ रहा है, अब इसको निपटाना ही पड़ेगा, फिर इन्होनें मुझसे कहा कि अगर हम इसे ऐसे मारते हैं तो पुलिस हम पर शक करेगी इसलिए तुम एक जहरीला साँप पकड़कर ले आना हम अंकित चौहान को किसी बहाने से माही के घर बुलाकर उसे नींद की गोलियाँ देकर बेहोश कर देंगे और तुम साँप से उसे कटवा देना जिससे उसकी मृत्यु सामान्य सर्पदंश की घटना लगे इस काम के हम तुम्हें दस हजार रूपये भी देंगे और माही तथा दीप काण्डपाल ने माही की नौकरानी तथा उसके पति रामऔतार को भी दस-दस हजार रूपये देने की बात कही थी। मैं इन सबकी बात सुनकर हत्या की साजिश में शामिल हो गया और फिर मैंने 15-20 दिन पहले जंगल से एक जहरीला नाग पकड़ कर अपने पास रख लिया और यह बात माही एंव उसके साथियों को बता दी तो उन्होंने कहा तुम साँप अपने पास रखे रहो जैसे ही हमें मौका मिलेगा हम अंकित को घर बुला लेंगे। माही ने मुझे अपने घर पर साँप लेकर बुलाया और कहा कि आज अंकित का जन्मदिन है वह यहाँ आयेगा तुम घर में ही छुप जाओ मौका देखकर मैं तुम्हें बुला लूँगी। उस दिन अंकित चौहान घर पर आया और रामऔतार तथा उसकी बीबी भी माही के घर पर आ गये फिर ये सब लोग खाना पीना खाकर शराब पीकर रात भर नाचते रहे जब काफी देर तक अंकित चौहान सोया नही तो माही ने मुझसे कहा कि आज मौका नही है मैं किसी और दिन का प्लान करती हूँ। दिनाँक 14.07.2023 को दिन में माही ने मुझे फिर से साँप लेकर अपने घर बुला लिया और माही के घर पर माही के साथ दीप काण्डपाल, रामऔतार एंव उसकी पत्नी भी मौजूद थी।

To Top