Connect with us
Advertisement

उत्तराखण्ड

बिग ब्रेकिंग-: वन विभाग का बड़ा प्रयास,वन्यजीव मूवमेंट को लेकर रेलवे बोर्ड ने इन ट्रेनों को किया नियंत्रित,कल से चलेंगी नई टाइम टेबल के अनुसार ।।

Ad

हल्द्वानी-:
पश्चिमी वृत के तीन वन डिवीजन में लगातार वन्यजीवों की ट्रेन के साथ हो रही मौतों से चिंतित वन विभाग की बड़ी पहल आखिर कामयाब हुई तथा रेलवे बोर्ड को भी वन्यजीवों की मौतों के आगे झुकना पड़ा जिसका नतीजा यह रहा कि तराई केंद्रीय वन प्रभाग एवं तराई पूर्वी वन प्रभाग एवं रामनगर पश्चिमी से गुजर रही रेलगाड़ियों को रेलवे बोर्ड ने नियंत्रित करते हुए एक अक्टूबर से इन ट्रेनों के संचालन में गति सीमा निर्धारित कर दी है जिसके तहत अब ट्रेन वन्यजीव मूवमेंट वाले क्षेत्रों में नियंत्रित कर चलेगी, जिसके चलते काठगोदाम, लालकुआं एवं रामनगर से चलने वाली ट्रेनों के समय में बड़ा परिवर्तन किया गया है।

फाइल फोटो


मिली जानकारी के अनुसार रेल दुर्घटनाओं के कारण वन्यजीवों की असमय मौत एक गंभीर चिंता का विषय बनती जा रही थी जिसकी गंभीरता को देखते हुए तराई केंद्रीय वन प्रभाग की प्रभागीय वनाधिकारी डॉक्टर अभिलाषा सिंह ने 18 अगस्त को रेलवे छतरपुर हाल्ट से आगे रेल दुर्घटना में दो हाथियों की मौत को बेहद गंभीरता से लेते हुए रेलवे से सामंजस्य बनाए जाने का अनुरोध किया पत्र में लालकुआं, काशीपुर रेलखंड के टांडा तथा पीपल पड़ाव रेंज के मध्य रेल पथ के आसपास हाथी एवं अन्य वन्यजीवों की आवाजाही को प्राकृतिक विचरण मानते हुए वन विभाग ने अपनी चिंताओं से रेलवे को अवगत कराते हुए पत्र लिखकर गति सीमा निर्धारण की मांग की तथा रेल पथ पर निगरानी हेतु अपने स्तर से टीम का गठन करने का भी अनुरोध किया जो वन विभाग की कर्मियों के साथ ट्रेन के समय वन्यजीव मूवमेंट वाले स्थान पर आवश्यक निगरानी करें। इस दौरान यदि कोई वन्यजीव विशेषकर हाथी ट्रैक के आसपास दिखाई देता है तो वन्यजीवों को तुरंत सूचित किया जाए जिसमें विभागीय कर्मचारियों को रेल कर्मचारी सहयोग करें। इस दौरान प्रभागीय वनाधिकारी ने रेलवे के अधिकारियों से भी सुझाव मांगे कि वह वन्यजीवों की सुरक्षा के प्रति अपने स्तर से भी सुझाव दे सकते हैं
इस पत्र के बाद हाथियों की मौतों की गंभीरता को देखते हुए रेलवे बोर्ड ने इन आरक्षित वन क्षेत्रों से ट्रेनों के संचालन को नियंत्रित करने के आदेश जारी कर दिए जिसके तहत अब 05013 जैसलमेर काठगोदाम एक्सप्रेस को10 मिनट वन्य जीव प्रभावित क्षेत्र में नियंत्रित किया गया वहीं 03019 हावड़ा काठगोदाम एक्सप्रेस को 25 मिनट नियंत्रित किया गया है वही शताब्दी एक्सप्रेस ट्रेन भी 2440 नई दिल्ली काठगोदाम शताब्दी एक्सप्रेस 15 मिनट देर से नियंत्रित होकर काठगोदाम पहुंचेगी जबकि 04090 जम्मू तवी काठगोदाम एक्सप्रेस 10 मिनट वन्यजीवों की सुरक्षा के लिए नियंत्रित की गई है साथ ही 04667 काठगोदाम, कानपुर सेंट्रल गरीबरथ 10 मिनट तथा 0 4126 काठगोदाम देहरादून एक्सप्रेस 5 मिनट, साथ ही 04016 अमृतसर लालकुआं वन्यजीव प्रभावित क्षेत्र होने के चलते रात्रि में 33 मिनट नियंत्रित की गई है वहीं लालकुआं हावड़ा 02353 एक्सप्रेस भी 5 मिनट को नियंत्रित की गई है।
वही 05314 रामनगर जैसलमेर विशेष गाड़ी जो वर्तमान समय में रात्रि 10:00 बचकर 20 मिनट पर छूटती थी वह भी काशीपुर में नियंत्रित होकर चलेगी, साथी लालकुआ आनंद विहार टर्मिनस विशेष गाड़ी वा रामनगर बांद्रा टर्मिनस विशेष गाड़ी के अलावा पूर्वोत्तर रेलवे की अन्य गाड़ियां का भी समय में परिवर्तन किया गया है जो 1 अक्टूबर से नए समय सारणी के अनुसार संचालित की जाएंगी।

Ad
Continue Reading

पोर्टल का मुख्य उद्देश्य उत्तराखंड तथा देश-विदेश की ताज़ा ख़बरों व महत्वपूर्ण समाचारों से आमजन को रूबरू कराना है। अपने विचार या ख़बरों को प्रसारित करने हेतु हमसे संपर्क करें। Email: [email protected] | Phone: +91 94120 37391

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in उत्तराखण्ड

Trending News

Like Our Facebook Page

Advertisement

Ad