यात्रा

रेलवे ब्रेकिंग-@_रेल उपयोगकर्ता परामर्शदात्री समिति की बैठक. बनारस से लालकुआं तक चले कृषक एक्सप्रेस ट्रेन।।

बरेली, पूर्वोत्तर रेलवे इज्जतनगर मंडल की रेल उपयोगकर्ता परामर्शदात्री समिति की बैठक मंडल रेल प्रबंधक सुश्री रेखा यादव की अध्यक्षता में आयोजित की गयी। इसमें समिति के 9 सदस्य सम्मिलित हुए।

अध्यक्षीय संबोधन में मंडल रेल प्रबंधक सुश्री रेखा यादव ने कहा कि मंडल रेल उपयोगकत्र्ता परामर्शदात्री समिति रेल प्रशासन को जनता से जोड़ने वाली महत्वपूर्ण कड़ी है, जो न केवल जनता की समस्याओं तथा आकांक्षाओं से रेल प्रशासन को अवगत कराती है, अपितु अपने परामर्श के माध्यम से रेल प्रशासन को अपना बहुमूल्य सहयोग प्रदान करती है। आगे मंडल रेल प्रबंधक ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2022-23 में मंडल में कई महत्वपूर्ण कार्य संपादित किये गये हैं तथा वितीय वर्ष 2023-24 में ‘‘अमृत भारत स्टेशन‘‘ योजना के तहत कई अति महत्वपूर्ण कार्य प्रस्तावित हैं, जिसे पूर्ण करने हेतु इज्जतनगर मंडल प्रयासरत् है।

कासगंज के श्री अखिलेश कुमार अग्रवाल ने कासगंज रेलवे स्टेशन पर रेलवे प्रशासन द्वारा किए जा रहे विकास कार्यों के लिए धन्यवाद ज्ञापित करते हुए सुझाव दिया कि कासगंज जनपद व्यापार के दृष्टिकोण से बहुत महत्वपूर्ण है इसलिए कासगंज को उत्तराखण्ड से जोड़ते हुए देहरादून तक ट्रेन सेवा प्रारंभ की जाए एवं कासगंज से मथुरा के लिए 14.00 बजे के आस-पास एक सवारी गाड़ी का संचालन किया जाये। कासगंज रेलवे स्टेशन के टिकट काउंटर को सायं 5 बजे के बजाय रात्रि 8.00 बजे तक खोला जाये। उन्होंने ने कहा कि ‘‘अमृत भारत स्टेशन योजना’’ के अन्तर्गत कासगंज रेलवे स्टेशन पर जनसुविधाओं का विस्तार के साथ-साथ गुणवत्ता युक्त बहुत अच्छा कार्य किया जा रहा है। शिशु देख-भाल केन्द्र खोल कर रेलवे ने एक सराहनीय कार्य किया है। कासगंज रेलवे स्टेशन पर यात्रियों के दबाव के मद्देनजर स्वचालित सीढ़ियाँ लगाई जायें। उन्होंने दिव्यांगों के लिए प्लेटफार्म संख्या एक से अन्य प्लेटफार्मों तक जाने/आने के लिए उचित व्यवस्था करने पर बल दिया।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर(उत्तराखंड) एस. एस.पी. ने किए निरीक्षक उप निरीक्षक के बंपर स्थानांतरण.देखें सूची ।‌

पीलीभीत के श्री अरविन्द कुमार ने सुझाव दिया कि टनकपुर से हावड़ा वाया पीलीभीत-शाहजहाँपुर के लिए ट्रेन सेवा प्रारंभ की जाए। उन्हांेने सुझाव दिया कि बरेली तथा शाहजहाँपुर होते हुए चलने वाली लंबी दूरी की गाड़ियों बरास्ते पीलीभीत चलाया जाए। पीलीभीत-शाहगढ़-मैलानी के बीच किए जा रहे आमान परिवर्तन कार्य को तीव्र गति से पूर्ण किया जाए जबतक पीलीभीत-शाहगढ़ के बीच आमान परिवर्तन कार्य पूरा नहीं होता तब तक यात्रियों की सुविधा के लिए शाहगढ़-मैलानी के बीच गाड़ियों का संचालन किया जाए, ताकि आम जनता को लखीमपुरखीरी, सीतापुर, और लखनऊ तक ट्रेन सुविधा उपलब्ध हो सके। गाड़ी संख्या 13020/13019 एवं 12354 एक्सप्रेस गाड़ियों का संचालन पीलीभीत से होते हुए किया जाए, जिससे आम जनता को रेल परिवहन सुविधा मिल सके। शाहजहाँपुर रेलवे स्टेशन पर पूर्व में पूर्वोत्तर रेलवे द्वारा टिकट खिड़की बंद कर दी गई है पुनः उत्तर रेलवे से एक टिकट खिड़की को खुलवाया जाए तथा एक एटीवीएम का प्रावधान किया जाए।

आंवला के श्री धर्मवीर सिंह ने इज्जतनगर मंडल द्वारा दिव्यांग रेल यात्रा रियायत कार्ड का आॅन स्पाॅट वितरण शिविर लगाकर करने के लिए मुक्त कंठ से सराहना की तथा माँग की कि इस प्रकार के शिविर का आयोजन पुनः किया जाए ताकि छूटे हुए दिव्यांगजनों को इसका सीधा लाभ मिल सके।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर(नैनीताल) कुमाऊं से चारधाम यात्रा मार्ग.डीएम वंदना ने स्थिति की स्पष्ट. इस रूप से जाना जाएगा यह मार्ग।।

बरेली के श्री अभिनव अग्रवाल ने माल-लदान के लिए पर्याप्त संख्या में माल डिब्बे अथवा रेक उपलब्ध कराने की माँग रखी एवं हाॅफ वैगन के बारे में चर्चा की।

इज्जतनगर (बरेली) के श्री ओम प्रकाश नाथ तिवारी ने सुझाव दिया कि वाराणसी-लखनऊ के बीच संचालित हो रही गाड़ी संख्या 15008/15007 कृषक एक्सप्रेस का मार्ग विस्तार लालकुआं तक बरास्ता इज्जतनगर तक किया जाए। देहरादून-गोरखपुर के बीच चलने वाली 15002/15006 में रेल यात्रियों की सुविधा के लिए डीआरएम कोटा को फिर से बहाल किया जाए। श्री तिवारी ने माँग की कि पूर्व में संचालित कान्यकुँज एक्सप्रेस को पुनः बरास्ते बरेली-कासगंज संचालित किया जाए।

बरेली के ही पं. हरिओम गौतम ने महत्वपूर्ण सुझाव दिया कि रामनगर-आगरा फोर्ट एवं टनकपुर-मथुरा गाड़ियों का संचालन नियमित किया जाये। बरेली सिटी स्थित शमशान भूमि एवं चैधरी तालाब पर अण्डर पास का निर्माण शीघ्र किया जाये। रेलवे स्टेशनों पर साइकिल, स्कूटर स्टैण्ड के लिए टिन शेड लगाये जायें। ट्रेनों में किन्नरों का अनाधिकृत प्रवेश पर प्रतिबंध लगाया जाये। बरास्ते बरेली दक्षिण भारत के लिए ट्रेनों का संचालन किया जाए।

मथुरा के श्री शशांक शर्मा ने कासगंज से मथुरा के लिए दोपहर 2.00 बजे के करीब मेमू ट्रेन चलाने का सुझाव दिया। मथुरा छावनी में तीर्थ यात्रियों की सुविधा के लिए यात्री शेड का निर्माण, मथुरा छावनी एवं हाथरस सिटी रेलवे स्टेशनों पर ट्रेन डिस्प्ले बोर्ड के प्रावधान तथा मथुरा छावनी स्टेशन पर एक्सप्रेस गाड़ियों का ठहराव के साथ 05061 मथुरा छावनी-टनकपुर गाड़ी को प्रतिदिन चलाये जाने का माँग की। मथुरा छावनी एवं हाथरस सिटी पर आर.ओ. की व्यवस्था किए जाने पर बल दिया।

यह भी पढ़ें 👉  (रेलवे ब्रेकिंग) अल्मोड़ा के उपेंद्र चंद जोशी ने संभाला रेलवे महाप्रबंधक का पद।।

कानपुर के श्री अमित प्रताप सिंह ने सुझाव दिया कि बिल्हौर रेलवे स्टेशन के समीप ककवन रोड पर स्थित क्रासिंग से प्रतिदिन 70 हजार से 1 लाख वाहनों का आवागमन होता है, क्रासिंग बन्द होने पर वाहनों की लम्बी लाईन लग जाती है। वाहनों के आवागमन की सुविधा को दृष्टिगत रखते हुए रोड ओवर ब्रिज का निर्माण किया जाये। प्रातः 8.00 बजे के बाद दैनिक व सामान्य यात्रियों की समस्या को दृष्टिगत रखते हुए एक नई ट्रेन का संचालन किया जाये।

फर्रुखाबाद के श्री विपिन बिहारी सक्सेना ने सुझाव दिया कि शिकोहाबाद से कासगंज जाने वाली 05419 ट्रेन का मार्ग विस्तार बरेली तक किया जाए एवं इस गाड़ी की समय सारणी संशोधन कर फर्रुखाबाद में 14723 कालिंदी एक्सप्रेस से लिंक प्रदान किया जाए। उन्होंने मांग की कि उत्तर मध्य रेलवे से चलने वाली सुपर फास्ट गाड़ियों का संचालन कानपुर वाया फर्रुखाबाद, कासगंज, बरेली से होकर अमृतसर के रास्ते किया जाये।

To Top