उत्तर प्रदेश

ब्रेकिंग(उत्तराखंड)एम्स ऋषिकेश,डॉक्टरों ने किया कमाल मजदूर के कटा हाथ को जोड़ा. धारचूला से एअरलिफ्ट किया गया था एम्स…..

देहरादून

एम्स ऋषिकेश के सर्जनों ने 5 घंटे की सर्जरी के बाद धारचूला के एक मजदूर का कटा हाथ जोड़ा डॉक्टरों की मेहनत और लगन से एम्स ऋषिकेश में एक चुनौती बड़ा ऑपरेशन पूरी तरह से सफल रहा पर्वतीय बहुल उत्तराखंड राज्य में एयर एंबुलेंस सेवा के चलते यह ऑपरेशन सफल हो सका, अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) ऋषिकेश में बुरी तरह से घायल मजदूर को एयर एंबुलेंस से अस्पताल लाया गया था।

20 मई को पिथौरागढ़ जिले में भारत-नेपाल सीमा के पास स्थित धारचूला कस्बे के शरीफ अंसारी मोर्टार मशीन पर काम करते समय दुर्घटना का शिकार हो गए. हादसे में उसका दाहिना हाथ शरीर से अलग हो गया।

यह भी पढ़ें 👉  मौसम अपडेट(देहरादून) इन पांच जनपदों में भारी बरसात की चेतावनी. देखें तात्कालिक मौसम पूर्वानुमान।।

सौभाग्य से अंसारी को एक एयर एंबुलेंस का लाभ मिला जिससे उन्हें एम्स ऋषिकेश ले जाया गया। उल्लेखनीय है कि सड़क मार्ग से दूर धारचूला से एम्स ऋषिकेश पहुंचने में करीब 24 घंटे का समय लगता है। ट्रॉमा और प्लास्टिक सर्जनों की एक टीम और अन्य डॉक्टरों ने एम्स ऋषिकेश में मरीज की अगवानी की। अंसारी के कटे अंग को साफ तौलिये में लपेट कर आइस बॉक्स में रखा गया था. डॉक्टरों की टीम पांच घंटे की लंबी सर्जिकल प्रक्रिया के बाद रोगी के हाथ को फिर से जोड़ने में सफल रही, जिसमें क्षतिग्रस्त रक्त वाहिकाओं और हड्डी की मरम्मत शामिल थी। टीम का नेतृत्व ट्रॉमा विभाग के प्रमुख डॉ क़मर अहमद और प्लास्टिक सर्जरी विभाग के एचओडी डॉ विशाल मागो ने किया और इसमें ट्रॉमा विभाग के सर्जन डॉ नीरज कुमार, डॉ सुनील कुमार और प्लास्टिक सर्जरी विभाग के डॉ अक्षय कपूर और डॉ नीरज राव शामिल थे।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर (उत्तराखंड) ईमानदारी की बड़ी मिसाल सड़क पर गिरे 1 लाख 69 क्या कोई वापस कर सकता है. जी हां इस महान व्यक्ति ने पुलिस के पास जाकर किये पैसे जमा. बीमार व्यक्ति को मिलेगी नई जिंदगी।।

संस्थान के ट्रॉमा विशेषज्ञों ने बताया कि इस तरह की सर्जरी में शुरुआती छह घंटे महत्वपूर्ण होते हैं और ऐसे में मरीज के अंग को बचाने में एयर एंबुलेंस सेवा महत्वपूर्ण साबित हुई।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर (उत्तराखंड) पुल को लेकर गलत वीडियो किया पोस्ट.अब डीएम ने एफआईआर दर्ज करने के दिए निर्देश।।

एम्स ऋषिकेश की कार्यकारी निदेशक डॉक्टर मीनू सिंह ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि एम्स आज का एक महत्वपूर्ण केंद्र है और हम रोगियों को उच्च गुणवत्ता वाली चिकित्सा सेवाएं प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

To Top