उत्तर प्रदेश

ब्रेकिंग-: नाबालिग किशोरी को राजस्थान से किया बरामद.एक व्यक्ति को किया गिरफ्तार. फरार लोगों की खोजबीन में जुटी उत्तराखंड पुलिस।।

उधम सिंह नगर में एक किशोरी को बेचने की खबर के बाद हरकत में आई थाना कुंडा पुलिस ने राजस्थान से बरामद कर लिया है। उसे शादी के लिए पांच लाख रुपये में बेचा गया था। ग्राम इस्लामनगर में किराये के मकान में निवास करने वाली एक महिला ने 15 नवम्बर को थाना कुंडा में आकर सूचना दी कि उसकी 16 साल की नाबालिग पुत्री गुम हो गई है। महिला की सूचना के आधार पर अज्ञात के विरुद्ध अभियोग पंजीकृत कर मामले की जांच सूर्या चौकी प्रभारी एसआई राजेंद्र प्रसाद को सौंपी गई। मामले का खुलासा करते हुए एसपी काशीपुर अभय सिंह ने बताया कि खोजबीन के दौरान पुलिस को पता चला कि नाबालिग की मां मूल रूप से रामपुर, थाना कांठ जिला मुरादाबाद उत्तर प्रदेश क्षेत्र की रहने वाली है तथा वह ग्राम इस्लामनगर में करीब दो माह से किराए के कमरे में रह रही है। उसके पति की करीब चार वर्ष पूर्व मृत्यु हो चुकी है।

यह भी पढ़ें 👉  बिग ब्रेकिंग(उत्तराखंड) 9 किलो के हाथी दांत को बेचने की फिराक में थे वन तस्कर. वन विभाग की एसओजी और उत्तराखंड एसटीएफ ने किए तीन तस्कर गिरफ्तार।।

एसपी ने बताया कि महिला की आर्थिक तंगी इतनी थी कि वह अपने गाल में उपजे एक बड़े ट्यूमर का भी इलाज नहीं करा पा रही थी। इसी बीच उसके पड़ोस में रहने वाली एक शातिर गिरोह की महिला सोनिया कुमारी व उसके मुंह बोले पति राजू ने गुमशुदा नाबालिग को मां का इलाज कराने के नाम पर अपने विश्वास में लेकर अपने जाल में फंसा लिया और दोनों मौके का फायदा उठाकर नाबालिक को बहला फुसलाकर राजस्थान ले गये। उन्होंने पूर्व से ही एक व्यक्ति के परिवार से इस शर्त के साथ शादी तय की कि वह उस लड़की को बेचने के बदले में उन्हें पांच लाख रुपये देंगे। जिस व्यक्ति के साथ उक्त नाबालिग की शादी होनी थी वह एक अर्ध विक्षिप्त व विकलांग व्यक्ति है। नाबालिग की पड़ोसी महिला एवं उसके मुंह बोले पति ने उसे बहला-फुसलाकर पांच लाख रुपये में आरोपी पक्ष को बेच दिया तथा एडवांस में तीन लाख रुपये लेकर वहां से भाग गए और अपना मोबाइल स्विच ऑफ कर लिया। एसपी ने बताया कि पुलिस ने अपने मुखबिरों व सर्विलांस टीम की मदद व अपने अथक प्रयास से करीब एक सप्ताह के अन्दर उस नाबालिग को राजस्थान के ग्राम मेवली, थाना कोटकासिम, जिला अलवर जाकर बरामद कर लिया तथा इस काम को अंजाम देने वाले गिरोह का भी भंडाफोड़ किया। आरोप में शामिल विकलांग के साथ शादी कराने वाले पिता मनोज कुमार पुत्र प्रहलाद निवासी ग्राम मेवली, थाना कोटकासिम, जिला अलवर राजस्थान को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। गिरोह के प्रकाश में आये अन्य सदस्य सोनिया कुमारी पत्नी शिशुपाल निवासी केवलगढ़ी हाथरस उ.प्र. व उसके साथी राजू पुत्र पूरन सिंह निवासी माधावाला गढ़ी, सुनील देवी पत्नी मनोज कुमार व उनके पुत्र मोनू पुत्र मनोज कुमार निवासीगण ग्राम मेवली, थाना कोटकासिम, जिला अलवर के विरुद्ध पोक्सो एक्ट व बाल विवाह प्रतिषेध अधिनियम की बढ़ोत्तरी की गयी है। इस दौरान उन्होंने बताया कि उक्त अभियुक्तों की तलाश कर गिरफ्तारी की जायेगी।

Ad Ad Ad Ad
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top