उत्तर प्रदेश

बड़ी खबर(देहरादून) भारतीय वन्य जीव संस्थान देहरादून में मल्टी टास्किंग स्टाफ (MTS) परीक्षा में कराई थी नकल.STF ने किया गिरफ्तार ।।

देहरादून Uttrakhand City news.com भारतीय वन्य जीव संस्थान देहरादून की एमटीएस पदों की भर्ती परीक्षा में नकल कराने वाले गिरोह के एक सदस्य को उत्तराखण्ड एसटीएफ ने हरियाणा के किया गिरप्तार।

➤ विगत वर्ष में थाना पटेलनगर नगर में पंजीकृत इस अभियोग विवेचना कर रही है एसटीएफ।

➤ गिरोह में अब तक तीन सदस्यों की हुयी है गिरप्तारी

➤ भर्ती परीक्षा में नकल करने वाले गिरोह के सदस्य करते हैं, आधुनिक डिवाइसों का प्रयोग।

हरियाणा के कैथल क्षेत्र में एसटीएफ उत्तराखण्ड एवं एसटीएफ रोहतक का संयुक्त ऑपरेशन।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ श्री आयुष अग्रवाल द्वारा जानकारी देते हुये बताया कि विगत वर्ष थाना पटेलनगर पर डा० सुरेश कुमार भारतीय वन्य जीव संस्थान दे०दून द्वारा दिनाँक 17/9/2023 को प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज करायी गयी थी कि भारतीय वन्य जीव संस्थान देहरादून में मल्टी टास्किंग स्टाफ (MTS) पद के लिए परीक्षा का आयोजन राजाराम मोहन राय पब्लिक स्कूल पटेलनगर में आयोजित किया गया था। जिसकी द्वितीय पारी में परीक्षा के दौरान दो अभ्यर्थियों की गतिविधि संदिग्ध पाये जाने एवं उनकी चैकिंग करने पर उनके कान से एक छोटा इयर फोन व छाती पर कमीज के नीचे से कैमरे से युक्त एक ईलेक्ट्रनिक डिवाईस एवं मेज के नीचे से एक और ईलैक्ट्रॉनिक डिवाईस, जिस पर मोबाईल कम्पनी का सिम लगा हुआ था, बरामद हुयी थी। इस सूचना पर थाना पटेलनगर देहरादून में अभियोग पंजीकृत होकर तत्समय परीक्षा देते हुये पकड़े गये दोनो अभ्यर्थियों नवराज पुत्र ईश्वर निवासी जीन्द, हरियाणा एवं प्रदीप पुत्र हरेन्द्र मोर निवासी जीन्द हरियाणा को गिरप्तार कर जेल भेजा गया। मामले में किसी बड़े संगठित गिरोह के संलिप्त होने तथा परीक्षा में नकल कराये जाने की गम्भीरता को देखते हुये इस मामले की विवेचना को पुलिस मुख्यालय के द्वारा उत्तराखण्ड एसटीएफ को सुपुर्द की गयी। मामले की विवेचना कर एसटीएफ के निरीक्षक सुधीर कुमार द्वारा विवेचना से पाया कि इस मामले में पकड़ा गया दूसरा अभ्यर्थी प्रदीप पुत्र हरेन्द्र किसी अन्य अभ्यर्थि मोहित मोर्य के नाम से परीक्षा दे रहा था तथा इस मामले में अन्य दो सदस्य सोनू पुत्र शीशपाल निवासी कैथल हरियााण एवं पवन पुत्र सुरेन्द्र जीन्द हरियाणा के नाम प्रकाश में आये। इस गिरोह के सदस्यों की गिरप्तारी के लिये उत्तराखण्ड एसटीएफ द्वारा हरियाणा में दबिश दी गयी तो वहां से फरार हो गये इस पर एसटीएफ द्वारा इनकी गिरप्तारी के वारण्ट जारी कराये गये और इनकी गिरप्तारी के लिये वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक देहरादून द्वारा 15 हजार रूपये ईनाम की घोषणा की गयी।

यह भी पढ़ें 👉  बड़ी खबर(उत्तराखंड) पैथोलॉजी लैब पर औचक छापा . मचा हड़कंप. हुई बड़ी कार्रवाई ।।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एसटीएफ ने आगे जानकारी देते हुये बताया कि ईनामी अपराधी सोनू पुत्र शीशपाल के सम्बन्ध में एसटीएफ कार्यालय में सूचना मिलने पर एसटीएफ की टीम को कल दिनांकः 10.07.24 को कैथल हरियाणा में भेजा गया जहां पर कल देर रात में रोहतक एसटीएफ के साथ सयुक्त ऑपरेशन करते हुये उसको गिरप्तार करने में सफलता मिली है जिसको गिरप्तार कर देहरादून में माननी न्यायालय में पेश किया जा रहा है।

गिरप्तार किये अभियुक्त का नाम-

यह भी पढ़ें 👉  हल्द्वानी-: CM धामी के निर्देश. House tax को किया स्थगित।।

सोनू पुत्र शीशपाल निवासी ग्राम डुण्डवा, थाना कलायत, जनपद कैथल हरियाणा।

एसटीएफ उत्तराखण्ड की टीम का नाम-

  1. उ०नि० विपिन बहुगुणा
  2. अ०उ०नि० देवेन्द्र भारती
  3. हे०कां० देवेन्द्र मंमगाई
  4. हे०कां० प्रमोद कुमार
  5. कां० नितिन कुमार
  6. कां० दीपक चन्दोला
  7. का० कादर खान
    एसटीएफ रोहतक की टीम का नाम-

1.INSP. Narenderpal incharge STF Rohtak
2.PSI ARVIND Stf Rohtak
3.HC YOGRAJ Singh 1385/RTK
4.HC JITENDER 3/157 IRB
5.HC JOGINDER 1433/SPT
6.CT PARDEEP 1001/SPT

To Top