Connect with us

उत्तराखण्ड

बिग ब्रेकिंग-: अवैध संबंध में हुई दो हत्याएं वीडियो भी बनाया था आरोपियों ने. यहां का है मामला. आरोपी गिरफ्तार।।

सेलाकुई
डबल मर्डर का उत्तराखंड पुलिस ने किया खुलासा सेलाकुई थाने में दर्ज हुई गुमशुदगी की रिपोर्ट के आधार पर जांच करते हुए सेलाकुई थाने को एक बड़ी कामयाबी मिली जिसमे एक साथ दो मर्डर का खुलासा वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक जन्मेजय खंडूरी ने किया घटनाक्रम के अनुसार थाना सेलाकुई में दिनांक 3 दिसंबर को वादी आलम पुत्र हनीफ निवासी पीठ लाली गली थाना सेलाकुई देहरादून मूलनिवासी ग्राम अमरेला थाना हल्दौर जिला बिजनौर ने सेलाकुई थाने में लिखित तहरीर दी कि उसका भांजा अरमान पुत्र मन्नू उम्र 18 वर्ष निवासी पीठ वाली गली थाना सेलाकुई से दिनांक दोबारा 2021 को दोपहर 2:00 बजे घर से

मोटरसाइकिल नंबर यूके सोल आईडी 5885 से देहरादून अपना सामान लेने के लिए गया था जिसके बाद वह घर नहीं लौटा और ना ही उसे संपर्क हो पा रहा था उपरोक्त गुमशुदगी पर तत्काल कार्यवाही करते हुए खाने से गुमशुदा की तलाश के लिए सभी जनपदों में फोटो डीसीआरबी इतिहास जारी किए गए लोकेशन वास सीडीआर के आधार पर डेढ़ सौ कैमरों की मदद से गुमशुदा की तलाश की गई पुलिस उपमहानिरीक्षक वह पुलिस वरिष्ठ अधीक्षक देहरादून द्वारा अरमान की तलाश के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए जिसमें पुलिस अधीक्षक ग्रामीण क्षेत्र अधिकारी प्रेम नगर और थानाध्यक्ष सेलाकुई द्वारा एक टीम गठित कर संबंधित स्थानों पर आने जाने वालों की चेकिंग शुरू की गई पुलिस टीम के नेतृत्व में 412 2021 को गुमशुदा अरमान की सीडीआर प्राप्त की गई जिसके अवलोकन से पता चला कि अरमान का मोबाइल 2 दिसंबर को 2:00 बजे के आसपास बंद हो गया था लोकेशन के आधार पर गुमशुदा के अंतिम लोकेशन टनल रोड क्लिमेंट टाउन बताई गई गुमशुदा के आखरी कॉल को संदेश नंबर के आधार पर उसकी जांच की गई जिस पर वार्ता की गई तो उसने अपना परिचय शंकरपुर सहसपुर में रहने स्वीकार किया जिसमें उसने 2 दिसंबर को सेलाकुई के से एक छोटा हाथी छोड़ने के लिए देहरादून आईएसबीटी आने की बात स्वीकारी और अपने आप को लखीमपुर खीरी का होना बताया और अरमान से किसी प्रकार का संबंध होने की बातों से मना कर दिया मामला संदिग्ध होता देखते हुए नंबर की लोकेशन निकाली गई जिसके आधार पर टनल रोड दबिश दी गई जहां पर एक संदिग्ध व्यक्ति मुशीर अली पुत्र रहमत अली निवासी लखीमपुर खीरी उत्तर प्रदेश को पकड़ा गया जिसके बाद उससे पूछताछ की गई तो उसने अरमान और अपनी पत्नी बबली बानो के अवैध संबंध के कारण हत्या करने को स्वीकारा मुशीर द्वारा बताया गया की वह सेलाकुई में एक कपड़ों की दुकान चलाता था जहां पर अरमान प्रेशर कुकर ठीक करने का काम करता था जिसके कारण उसका मुशीर के घर पर आना जाना लगा रहता था जिसके कारण उसकी पहचान उसकी पत्नी बबली बानो से हो गई अरमान अक्सर मेरे पीठ पीछे मेरी पत्नी मोगली भावनाओं से मिलने आया करता था इस बात को लेकर मुशीर ने अपनी पत्नी को कई बार समझाया परंतु वह नहीं मानी बबली बानो मुशीर की पहली पत्नी सरफु निशा से भी आए दिन झगड़ा करती थी जिससे उसकी पहली पत्नी शरीफा बानो उससे नाराज होकर अपने बच्चों सहित अपने मायके चली गई उसकी दूसरी पत्नी बबली बानो की दोस्ती बिंदाल निवासी किरण साहनी से थी जिससे उसकी भी जान पहचान हो गई और दोनों ने दोस्ती कर ली किरण सहानी को अरमान से भी जान पहचान थी मुशीर ने 12 नवंबर 2021 को शंकरपुर सहसपुर से कमरा खाली कर मुस्लिम कॉलोनी गली नंबर 2 टंडन रोड देहरादून में किराए पर रहने लगा बबली बानो के कारण किरण साहनी का उसके कमरे पर आना जाना शुरू हो गया जिससे धीरे धीरे मुशीर और किरण साहनी मैं प्रेम संबंध हो गया जिसके कारण उसे अपनी पत्नी बबली बानो और अरमान के अवैध संबंधों से काफी खुंदक थी जिसके लिए उसने किरण सहानी के साथ मिलकर 20 दिन पहले बबली बानो को टनल रोड स्थित किराए के कमरे पर मारकर उसकी हत्या कर दी और किरण साहनी के साथ मिलकर उसको देहरादून से हरिद्वार टवेरा गाड़ी में ले जाकर पिरान कलियार रोड के किनारे झाड़ियों में फेंक दिया बबली बानो की हत्या का वीडियो भी किरण साहनी द्वारा बनाया गया उसके बाद अरमान किरण सहानी से संपर्क करने की कोशिश करने लगा । मुशीर को डर था कि अगर अरमान को बबली भानु के हत्या के बारे में पता चल गया तो वहां यह बात सबको बता देगा जिसके चलते अरमान ने 2 दिसंबर को मुशीर को फोन किया और उसको मिलने के लिए कहा मुशीर ने किरण सहाने से बात कर अरमान को रास्ते से हटाने के लिए प्लान तैयार कर रखा है जिसके लिए उसने अरमान को देहरादून बुलाया है जोकि दिन में 2:00 बजे के आसपास मुशीर के किराए के कमरे मैं ले जाकर उसने उसको किरण के साथ बात करने के लिए छोड़ दिया और बाहर जाकर तुरंत अंदर आकर बीबी ईट से अरमान के सिर पर मारा जिसके बाद किरण साहनी और उसने चादर से अरमान का गला घोट कर उसकी हत्या कर दी बाद में अरमान केशव को दोनों ने टवेरा गाड़ी में एक प्लास्टिक के कट्टे में रखकर नेपाली फार्म के पुराने तिराहे पुराने पुल के नीचे फेंक दिया वहां से वापस आकर किरण धानी अपने कमरे में चली गई और मुशीर गाड़ी लेकर इधर-उधर घूमने लगा जिसको घूमते हुए पकड़ा गया निशानदेही पर गुमशुदा अरमान को थाना रायवाला के अंतर्गत नेपाली फॉर्म तिराहा से आगे जंगल में बरामद किया गया अभियुक्त के पास से घटना में प्रयुक्त हुई टवेरा गाड़ी मोटरसाइकिल की घटना बनाई गई थी कब्जे में लिया गया है अभियुक्तों के खिलाफ धारा 302 201 34 भारतीय दंड संहिता के अंतर्गत विवेचना की जा रही है वही बबली बानो के शव की जांच में संबंधित थानों से संपर्क कर आवश्यक कार्यवाही की जा रही है अभियुक्तों को माननीय न्यायालय के समक्ष पेश किया गया।

Ad
Continue Reading

पोर्टल का मुख्य उद्देश्य उत्तराखंड तथा देश-विदेश की ताज़ा ख़बरों व महत्वपूर्ण समाचारों से आमजन को रूबरू कराना है। अपने विचार या ख़बरों को प्रसारित करने हेतु हमसे संपर्क करें। Email: [email protected] | Phone: +91 94120 37391

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in उत्तराखण्ड

Uttarakhand News

Uttarakhand News

Trending News

Like Our Facebook Page