उत्तर प्रदेश

बिग ब्रेकिंग (हल्द्वानी) क्रेशर संचालकों ने गौला नदी से आने वाले माल का माल भाड़ा कम करने का नोटिस किया चश्पा.तो भड़के खनन व्यवसाई.कहा भाड़ा कम किया तो नहीं चलाएंगे वाहन।

लालकुआं-: वाहन स्वामियों और केसर संचालकों के बीच एक बार फिर उप खनिज रेट निर्धारण को लेकर मामला तूल पकड़ता जा रहा है बरेली रोड क्षेत्र के कई स्टोन क्रेशर संचालकों द्वारा गौला नदी से ₹3 भाड़ा कम करने संबंधी आदेश अपने-अपने स्टोन क्रशर पर चस्पा करने के बाद खनन व्यवसायियों में उबाल आ गया, उन्होंने बैठक करते हुए जहां आंदोलन की चेतावनी दी, वही स्टोन क्रेशरों में भी हंगामा किया।
स्टोन क्रेशर संचालकों द्वारा 3 रुपये भाड़े में गिरावट करने से नाराज भारी संख्या में वाहन स्वामियों द्वारा बेरीपड़ाव गौला गेट में एक बैठक की। बैठक में एक स्वर से वाहन स्वामियों ने कहा अगर स्टोन क्रेशरों द्वारा 3 रुपये भाड़े में गिरावट की जाती है तो वाहन स्वामी एक होकर अपनी गाड़ियों को नदी में प्रवेश नहीं करेंगे। गौला खनन संघर्ष समिति के अध्यक्ष रमेश जोशी ने कहा कि वाहन स्वामियों का उत्पीड़न किसी भी हाल में नहीं होने देंगे, भले ही खनन व्यवसायियों को इस सीजन के लिए फिर से गेट बंद करना पड़े। बेरीपड़ाव गेट अध्यक्ष जीवन बोरा ने कहा कि एक बार उप खनिज वाले का रेट निर्धारण करने के बाद स्टोन क्रेशर संचालक द्वारा रेट कम करने का प्रयास कर रहे हैं जो न्याय संगत नहीं है इस बीच वाहन स्वामी ने कृषक संचालकों से वार्ता कर रेट ना कम करने की बात कही जिस पर उक्त स्टोन क्रेशरो ने भाड़ा कम नही करने का आश्वासन दिया तब जाकर वाहन स्वामी शांत हुए।
बैठक में ग्राम प्रधान शंकर जोशी, सचिव इंदर सिंह नयाल, जीवन बोरा, रमेश चंद्र कांडपाल, नवीन जोशी, लक्ष्मी दत्त पांडे, गणेश बिरखानी, सुरेश चंद जोशी, गोकुल भट्ट, राजू चौबे, कमल बिष्ट, नवल जोशी, सावन पथनी, लक्ष्मी दत्त जोशी, पप्पू सुनाल, पूरन पाठक ,गुड्डू पांडे, राकेश जोशी, इंद्र लाल, सुशील यादव, नरेंद्र सिंह कार्की सहित भारी संख्या में वाहन स्वामी मौजूद थे।

To Top