Connect with us

उत्तराखण्ड

बिग ब्रेकिंग-:(गुस्ताखी की सजा)DM की बैठक में ना पहुंचने पर EO का रोंका वेतन. शीतलहर से बचाव की समीक्षा में DM ने लिया एक्शन ।।


जनपद में शीतलहर के कारण एक भी जनहानि न हों, इसलिए सभी तैयारियां समय से पूर्ण करना सुनिश्चित करें। यह निर्देश जिलाधिकारी श्री युगल किशोर पन्त ने सोमवार को डॉ.एपीजे अब्दुल कलाम सभागार में शीतलहर से बचाव सम्बन्धी तैयारियों की गहनता से समीक्षा करते हुए दिये।

उधम सिंह नगर


बैठक में अनुपस्थित पाये जाने पर अधिशासी अधिकारी जसपुर का वैतन रोकने के निर्देश दिये।
समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी श्री पन्त ने कहा कि मौसम में बदलाव के साथ ठंड बढ़ रही है। उन्होंने शीत लहर शुरू होने से पहले ही बेघरों को राहत पहुंचाने के उद्देश्य से रैन बसेरों में रूकने की व्यवस्था एवं अन्य जरूरी तैयारियां समयबद्ध तरीके से पूर्ण करने के निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को दियें। उन्होंने रेन बसेरों में सैनिटाइजर, मास्क की व्यवस्था करने के भी निर्देश दिये। उन्होंने रैन बसेरों में महिलाओं एवं पुरूषों के अलग-अलग रूकने की व्यवस्था करने के साथ ही महिला व पुरूष केयर टेंकर की व्यवस्था करने भी निर्देश दिये।
उन्होंने कहा कि ठंड से बचाव को अलाव जलाने के लिए लकड़ी की खरीदारी एवं कंबल वितरण की व्यवस्था किया जाए। उन्होंने अलाव जलाने के लिए अभी से स्थान चिन्हित करनें के निर्देश अधिशासी अधिकारियों को दिये। उन्होंने ग्रामीण क्षेत्रों में अलाव जलाने की व्यवस्था हेतु पंचायतों में कन्टीजेंसी से अलावकी व्यवस्था कराने के निर्देश जिला पंचायत राज अधिकारी को दिये। डीएम ने इस काम में लापरवाही बरतने वाले नगर निकायों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी।
डीएम श्री पन्त ने निर्देशित करते हुए कहा कि रैन बसेरों में बिस्तर साफ हों, खिड़कियां न टूटी हों व पानी की भी पर्याप्त व्यवस्था हो। उन्होंने सभी रैन बसेरों के लिए नोडल अधिकारी नामित करते हुए निर्देश दिये कि रेन बसेरों के साथ ही स्वास्थ्य केन्द्रों में बने तीमारदार कक्षों का मौका मुआयना कर, व्हाट्सएप के माध्यम से तत्काल रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। उन्होंने धमशाला संचालकों से समन्वय करने के भी निर्देश दिये। डीएम श्री पन्त ने उप जिलाधिकारियों तथा तहसीलदारों को अपने वाहनों में कम्बल रखने तथा रात्रि में गश्त करने के साथ ही जरूरतमन्द व्यक्तियों को कम्बल वितरित करने के निर्देश दिये।
उन्होंने सर्दियों में कोहरे एवं धुन्ध के कारण होने वाली वाहन दुर्घटनाओं पर पूर्ण अंकुश लगाने के लिए मोटर वाहनों के साथ ही बेलगाड़ियों, तांगों आदि पर सख्ती से रिफलैक्टर लगवाने के निर्देश पुलिस तथा परिवहन विभाग के अधिकारियों को दिये। उन्होंने साईकलों में भी रिफलेक्टर लगवाने के निर्देश दिये। उन्होंने ट्रालियों में 8 से 10 इंच चौड़ी व पर्याप्त लम्बाई की रिफलैक्टर पटियां लगाने के भी निर्देश पुलिस तथा परिवहन विभाग के अधिकारियों को दिये। उन्होंने वाहनों मंे प्रथमिकता से रिफलैक्टर लगवाने के निर्देश पुलिस तथा परिहवन विभाग के अधिकारियों के लिए दिये।
बैठक में अपर जिलाधिकारी डॉ.ललित नारायण मिश्र, अतिरिक्त कमाण्डेंट अनिल कुमार, उप जिलाधिकारी प्रत्यूष सिंह, कौस्तुभ मिश्रा, जिला पूर्ति अधिकारी तेजबल सिंह, मुख्य शिक्षा अधिकारी आरसी आर्य सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

Ad
Continue Reading

पोर्टल का मुख्य उद्देश्य उत्तराखंड तथा देश-विदेश की ताज़ा ख़बरों व महत्वपूर्ण समाचारों से आमजन को रूबरू कराना है। अपने विचार या ख़बरों को प्रसारित करने हेतु हमसे संपर्क करें। Email: [email protected] | Phone: +91 94120 37391

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in उत्तराखण्ड

Uttarakhand News

Uttarakhand News

Trending News

Like Our Facebook Page