Connect with us
Advertisement

उत्तराखण्ड

बिग ब्रेकिंग-:यदि बाहरी राज्य से आप उत्तराखंड घूमने आ रहे हैं तो आपके लिए है यह मतलब की खबर,नहीं तो उत्तराखंड पुलिस प्रशासन आपको उत्तराखंड सीमा से कर सकती है बाहर,

Ad

देहरादून।
उत्तराखंड में दूसरे राज्यों से आने के लिए पर्यटकों को कोरोना आरटीपीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट लाना अनिवार्य है। यूपी-उत्तराखंड बॉर्डर पर पर्यटकों पर कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट की सख्ती से जांच होगी। दूसरे राज्यों से कोरोना की रिपोर्ट के बिना आने वाले पर्यटकों को वापिस भेज दिया जाएगा। डीआईजी (लॉ एंड ऑडर ) नीलेश आनंद भरणे ने पर्यटकों से अपील की है कि वह कोविड गाइडलाइन्स का सख्ती से पालन करें। पर्यटकों का स्वागत करते हुए कहा कि पर्यटकों को उत्तराखंड प्रवेश के लिए कोरोना आरटीपीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट, स्मार्ट सिटी पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन और होटल बुकिंग संबंधी दस्तावेज उपलब्ध होने पर प्रवेश की अनुमति दी जाएगी।

भरणे ने सख्ती से कहा कि किसी भी पर्यटक को बिना सभी दस्तावेजों के उत्तराखंड में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

पिछले कुछ दिनों से भले ही उत्तराखंड में कोरोना का ग्राफ कुछ कम हुआ है लेकिन सरकार ढिलाई के मूड में नहीं दिख रही है। दिल्ली, यूपी समेत दूसरे प्रदेशों से उत्तराखंड आने वाले यात्रियों कोरोनो आरटीपीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट लाना अनिवार्य है। दूसरे प्रदेशों से उत्तराखंड आने के लिए आरटीपीसीआर, एंटीजन या रेपिड टेस्ट की नेगेटिव रिपोर्ट होना अनिवार्य है। कोरोना की नेगेटिव रिपोर्ट नहीं होने पर किसी भी यात्री को प्रदेश में आने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

यह भी पढ़ें 👉  (लालकुआं) लालकुआं में बाढ़ से बिगड़े हालात, जनप्रिय नेता पवन चौहान ने संभाली कमान,रात भर डटे रहे प्रभावित लोगों के साथ,पहुंचाया लोगों को सुरक्षित स्थान ।।

उत्तराखंड-यूपी बॉर्डर पर पुलिस पोस्टों पर सभी की गहनता से जांच की जाएगी। वीकेंड पर पर्यटकों की संख्या में इजाफा हो रहा है। हरिद्वार में पर्यटकों की भारी संख्या से सबक लेते हुए पुलिस-प्रशासन ने भी सख्ती करने का फैसला लिया है।
रविवार को पांच हजार पर्यटकों की भीड़ के बाद पुलिस ने बॉर्डर पर अतिरिक्त चेक पोस्ट बनाने का फैसला लिया है। पिछले दो हफ्ताें से हरिद्वार में पर्यटकों की संख्या में इजाफा हो रहा है। कोरोना नेगेटिव रिपोर्ट और पंजीकरण के बिना हरिद्वार आने वाले पर्यटकों को वापिस लौटा दिया जाएगा। बता दें कि चिड़ियापुर-श्यामपुर चेकपोस्ट पर रोजाना तीन से चार सौ पर्यटक रोज पहुंच रहे हैं।

यह भी पढ़ें 👉  ब्रेकिंग-:वन विभाग के 18 कर्मचारियों को मिली पदोन्नति,बने वन आरक्षी।

एसएचओ श्यामपुर अनिल चौहान ने बताया कि चेकपोस्ट से करीब 100 गाड़ियों का वापिस भेज दिया गया है। यूपी, दिल्ली, हरियाणा से बिना काेविड नेगेटिव रिपोर्ट और पंजीकरण के बिना पर्यटकों को वापिस लौटा दिया गया है। बताया कि दूसरे राज्यों से उत्तराखंड आने के लिए 72 घंटे की आरटीपीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य है।

हरिद्वार प्रशासन की ओर से वीकेंड पर सख्ती की जा रही है ताकि कोई भी पर्यटक बिना कोविड नेगेटिव रिपोर्ट के जिले में प्रवेश न कर सके। नैनीताल पुलिस ने बगैर आरटीपीसीआर के जिले के बार्डरों से प्रवेश कर रहे 2 हजार 491 पर्यटकों को वापस लौटा दिया। जिले के बार्डरों में बाहरी राज्यों से 4 हजार 728 पर्यटक पहुंचे। इसमें से आरटीपीसीआर और रैपिड एंटीजन टेस्ट रिपोर्ट लेकर आए 4360 पर्यटकों को ही जिले में प्रवेश दिया गया। कुल 1241 वाहनों में से 1049 वाहनों को प्रवेश दिया गया, 192 वाहनों को वापस भेज दिया गया। बीते तीन दिनों से 8548 वाहनों सहित कुल 32 हजार 934 यात्रियों पर्यटकों को जिले में प्रवेश दिया गया। रविवार को पुलिस ने आरटीपीसीआर रिपोर्ट जांच के साथ ही जाम पर विशेष सतर्कता बरती रखी। एसएसपी प्रीति प्रियदर्शिनी ने कहा कि अगर नैनीताल में जिले में घुमने आ रहे हैं तो आरटीपीसीआर रिपोर्ट जांच कराकर आए और रिपोर्ट साथ रखें। जिससे की बार्डर से प्रवेश में आसानी हो

Ad
Ad
Continue Reading

पोर्टल का मुख्य उद्देश्य उत्तराखंड तथा देश-विदेश की ताज़ा ख़बरों व महत्वपूर्ण समाचारों से आमजन को रूबरू कराना है। अपने विचार या ख़बरों को प्रसारित करने हेतु हमसे संपर्क करें। Email: [email protected] | Phone: +91 94120 37391

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

More in उत्तराखण्ड

Trending News

Like Our Facebook Page

Advertisement

Ad